ऑस्‍ट्रेलिया में 380 व्‍हेल की मौत, विशालकाय मछलियों का पूरा कुनबा ही खत्‍म

Spread the love


हाइलाइट्स:

  • ऑस्‍ट्रेलिया के दक्षिणी हिस्‍से में कम से कम 380 पायलट व्‍हेल मछलियों की मौत हो गई है
  • इन विशालयकाय मछलियों को बचाने में लगे बचावकर्मी केवल कुछ ही मछलियों को बचा सके
  • बताया जा रहा है कि व्‍हेल मछलियों का पूरा समूह (पॉड) ही तस्‍मानिया के तट पर खत्‍म हो गया

केनबरा
ऑस्‍ट्रेलिया के दक्षिणी हिस्‍से में कम से कम 380 पायलट व्‍हेल मछलियों की मौत हो गई है। इन विशालयकाय मछलियों को बचाने में लगे बचावकर्मी केवल कुछ ही मछलियों को बचा सके। बताया जा रहा है कि व्‍हेल मछलियों का करीब पूरा समूह (पॉड) ही खत्‍म हो गया है। ये मछलियां तैरते हुए तस्‍मानिया के तट पर किनारे आ गई थीं और वहीं पर उथले पानी में फंस गईं। मछलियों के इतने बड़े पैमाने पर तट पर आने के कारणों का पता नहीं चल पाया है।

पायलट व्हेलें समुद्र में पाई जाने वाली डॉल्फिन मछली की एक किस्म होती है। इसके सदस्य 7 मीटर (23 फीट) तक लंबे और 3 टन तक भारी हो सकते हैं। बताया जा रहा है कि मार्की हार्बर नामक इलाके में कुल 460 पायलट व्‍हेल मछलियां समुद्र के छिछले पानी में फंस गई थीं। बचावकर्मी इनमें से कुछ दर्जन मछलियों को ही बचा सके। तस्‍मानिया के वन्‍यजीव सेवा से जुड़े अधिकारी निक डेका ने कहा कि 380 व्‍हेल मछलियों की मौत हो गई है।

‘तट पर समुद्र में अभी 30 मछलियां जिंदा हैं’
डेका ने कहा, ‘समुद्र में अभी 30 मछलियां जिंदा हैं और अब तक हमने 50 को जिंदा बचा लिया है। व्‍हेल मछलियों को सोमवार को सबसे पहले पाया गया था। चूंकि यह इलाका उथला है, इसलिए वहां पर केवल नौका के जरिए ही जाया जा सकता है। ऑस्‍ट्रेलिया में व्‍हेल मछलियों के तट पर आने की यह संभवत: सबसे बड़ी घटना है। करीब 60 प्रशिक्ष‍ित बचावकर्मी इन मछलियों को बचाने के लिए प्रयास कर रहे हैं।

बचावकर्मियों ने बताया कि अभी भी 30 व्‍हेल म‍छलियां फंसी हुई हैं और उन्‍हें बचाने के लिए प्रयास चल रहा है। हालांक‍ि पानी के बहुत ठंडा होने की वजह से राहत कार्य में बाधा आ रही है। बचावकर्मी शिफ्ट में काम कर रहे हैं। व्‍हेल मछलियां करीब 10 किलोमीटर के इलाके में फंसी हुई हैं और बचावकर्मियों ने अपने अभियान का दायरा बढ़ा द‍िया है। व्हेलों के पास भारी मात्रा में ठंडा पानी ले जाकर उन्हें एक झूले जैसी चीज पर टांगने की कोशिश की जा रही है और इस तरह उन्हें धीरे-धीरे गहरे पानी की ओर ले जाकर छोड़ दिया जा रहा है।



Source link

Previous Article
Next Article

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *