करोड़ों इनऐक्टिव यूजर फिर भी नंबर 1 Reliance Jio, जानें Vi और एयरटेल का हाल

Spread the love


नई दिल्ली
रिलायंस जियो (Reliance Jio) ने एक बार फिर से दूसरी टेलिकॉम कंपनियों को पीछे छोड़ दिया है। जियो देश की पहली ऐसी टेलिकॉम कंपनी बन गई है, जिसके पास 40 करोड़ सब्सक्राइबर हैं। जुलाई में कंपनी ने 35.5 लाख नए यूजर्स को अपने नेटवर्क से जोड़ा। हालांकि, कंपनी के ऐक्टिव यूजर्स में 8.5 करोड़ से ज्यादा की कमी भी आई है। इसी बीच जुलाई में टेलिकॉम इंडस्ट्री को भी 35 लाख यूजर्स का फायदा हुआ। जुलाई में ऑफलाइन चैनल्स के खुलने और इकॉनमी के रफ्तार पकड़ने के साथ देश में सब्सक्राइबर बेस की संख्या बढ़ कर 114.4 करोड़ हो गई।

तेजी से घटे ऐक्टिव यूजर

जून 2020 में भारतीय टेलिकॉम सब्सक्राइबर्स में 32 लाख की कमी आई थी। ट्राई के लेटेस्ट डेटा के अनुसार रिलायंस जियो के पास भले ही अभी सबसे ज्यादा सब्सक्राइबर हों, लेकिन इनऐक्टिव सब्सक्राइबर्स के मामले में भी यह एयरटेल और वोडाफोन से आगे है। जियो की बात करें तो इसके ऐक्टिव यूजर्स में 8.78 करोड़ की कमी आई है। वहीं, एयरटेल के इनऐक्टिव यूजर्स की संख्या 95 लाख और वोडाफोन-आइडिया के इनऐक्टिव यूजर्स की संख्या 3.21 करोड़ रही।

Vivo V20 स्मार्टफोन आज होगा लॉन्च, 64MP के ट्रिपल रियर कैमरा सेटअप से है लैस

माइग्रेंट यूजर के कारण घटे ऐक्टिव यूजर
रेटिंग एजेंसी फिच के सीनियर डायरेक्टर नितिन सोनी ने बताया कि जियो के इनऐक्टिव यूजर्स के पीछे की वजह, लॉकडाउन के कारण एक से दूसरे शहर जाने वाले माइग्रेंट हैं, जिन्होंने अब अपना जियो नंबर यूज करना बंद कर दिया है।

इतनी रही कुल यूजर्स की संख्या
ट्राई के अनुसार जुलाई के आखिर में जियो के कुल यूजर्स की संख्या 40.08 करोड़ रही। एयरटेल की बात करें तो इसने जुलाई के आखिर तक 32.6 लाख वायरलेस सब्सक्राइबर्स ऐड किए। इसके साथ एयरटेल के कुल यूजर की 31.99 करोड़ रही, जिसमें ऐक्टिव यूजर 97 प्रतिशत हैं।

Vi यूजर्स की संख्या में आई कमी
वोडाफोन-आइडिया की बात करें तो इस कंपनी की मुश्किलें कम नहीं हो रही हैं। कंपनी ने हर बार की तरह इस बार भी भारी संख्या में अपने को गंवाया। जुलाई में वोडाफोन-आइडिया के यूजर्स में 37.2 लाख की कमी आई। इसके बाद कंपनी ने यूजर्स की संख्या घट कर 30.13 करोड़ हो गई, जिसमें ऐक्टिव यूजर 89.33 प्रतिशत हैं।

Itel ने लॉन्च की स्मार्ट टीवी की 3 नई सीरीज, कीमत 8,999 रुपये से शुरू

ट्राई के VLR डेटा में खुलासा
ऐक्टिव यूजर्स को ट्रैक करने के लिए VLR (विजिटर लोकेशन रजिस्टर) का इस्तेमाल किया जाता है। यह उन यूजर्स का टेंपररी रजिस्टर होता है, जो एक इलाके से दूसरे इलाके में माइग्रेट होते हैं। अगर कोई सब्सक्राइबर ऐक्टिव स्टेज में है, तो वह कॉलिंग और एसएमएस सर्विस यूज कर सकता है। इसी के आधार पर ऐक्टिव और इनऐक्टिव यूजर्स की पहचान की जाती है। ट्राई के VLR डेटा के मुताबिक इस वक्त एयरटेल के ऐक्टिव यूजर 98.14 %, वोडाफोन-आइडिया के ऐक्टिव यूजर 89.49% और जियो के ऐक्टिव यूजर 78.15 हैं।



Source link

Previous Article
Next Article

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *