क्या वाईएसआर कांग्रेस ‘NDA’ में होगी शामिल? सीएम जगन PM मोदी से मिलने पहुंचे दिल्ली

Spread the love


नई दिल्ली
महाराष्ट्र चुनाव के दौरान शिवसेना और हाल ही में कृषि कानून के विरोध में अकाली दल ने एनडीए का साथ छोड़ दिया है। ऐसे में चर्चा यह है कि बीजेपी अपने कुनबे का विस्तार चाहती है। कुछ राज्यों के प्रभावशाली नेताओं से उसकी बात भी चल रही है। सबसे दिलचस्प खबर आंध्र प्रदेश से आ रही है। हिंदुस्तान टाइम्स अखबार की रिपोर्ट के मुताबिक, जगन मोहन रेड्डी के नेतृत्व वाली वाईएसआर कांग्रेस पार्टी के वरिष्ठ नेताओं का कहना है कि उनकी पार्टी बीजेपी के नेतृत्व वाली राष्ट्रीय जनतांत्रिक गठबंधन (NDA) में शामिल हो सकती है।

जगन रेड्डी सोमवार शाम को नई दिल्ली के लिए रवाना हुए और मंगलवार सुबह 10.30 बजे प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी से मिलने वाले हैं। पार्टी नेता ने कहा, पीएम मोदी एनडीए को मजबूत करने के लिए YSRCP को आमंत्रित कर सकते हैं। बता दें कि पिछले दो हफ्तों में आंध्र प्रदेश के मुख्यमंत्री की यह दूसरी यात्रा है। 22 सितंबर को जगन ने दिल्ली का दो दिवसीय दौरा किया और केंद्रीय मंत्री अमित शाह से मुलाकात की थी। माना जाता है कि राज्य से संबंधित मुद्दों के अलावा, NDA में शामिल होने वाले YSRCP पर प्रारंभिक विचार-विमर्श किया गया था। हालांकि, उस दौरान उनकी मुलाकात पीएम मोदी से नहीं हो सकी थी।

ये भी पढ़ें-नीतीश के नेतृत्व को नकारने के बाद चिराग पासवान का खुला पत्र

रेड्डी की पार्टी को केंद्र सरकार में 3 पद मिलने की उम्मीद
चुनाव सर्वेक्षणों से संंबंधित एक डेटा-एनालिटिक्स फर्म VDP एसोसिएट्स ने सोमवार को ट्वीट कर कहा, ‘बीजेपी ने कथित तौर पर YSRCP को 2 कैबिनेट और 1 राज्य मंत्री (स्वतंत्र) की पेशकश की है। जगन ने पीएम मोदी के साथ विशेष वार्ता के लिए दिल्ली पहुंचने के लिए कहा है। उधर, जगन सरकार ने केंद्र द्वारा जीएसटी मुआवजा भुगतान की भरपाई के लिए अतिरिक्त उधार लेने के लिए मोदी सरकार द्वारा दिए गए विकल्प को भी स्वीकार कर लिया, हालांकि तेलंगाना सहित 12 से अधिक राज्यों ने इसका विरोध किया।

बिहार चुनाव: महागठबंधन में शामिल भाकपा-माले ने 19 सीटों पर घोषित किए प्रत्याशी

रेड्डी ने इस शर्त को भी माना
जगन ने मोदी सरकार की इस शर्त को भी स्वीकार कर लिया कि आत्मानबीर भारत पैकेज के हिस्से के रूप में बिजली क्षेत्र के सुधारों को लागू किया जाए, जिसमें कृषि क्षेत्र के लिए मीटरों को ठीक करना भी शामिल है ताकि इसकी उधार सीमा को बढ़ाया जा सके। विशाखापत्तनम के राजनीतिक विश्लेषक मल्लू राजेश कहते हैं, ‘अगर वाईएसआरसीपी एनडीए में शामिल हो जाती है, तो यह जगन के साथ-साथ भाजपा के लिए भी जीत की स्थिति होगी।’



Source link

Previous Article
Next Article

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *