गलती से LOC पार करने वाली लड़िकयों को सेना ने वापस पाक भेजा, लाइबा जबैर ने कहा- भारत के लोग बहुत अच्छे हैं

Spread the love


नई दिल्ली
कई बार ऐसा देखा जाता है कि लोग गलती से सरहद पार लेते है। फिर उसके बाद तमाम कानूनी प्रक्रियाएं होती हैं। इस प्रोसेसिंग में कितना भी वक्त लग जाता है। साथ ही गलती से सरहद पार करने वाले शख्स के मन में भी बहुत डर रहता है कि देश की सेना हमारे साथ कैसा व्यवहार करेगी। मगर हिंदुस्तान की सेना ने पड़ोसी मुल्क के सामने एक उदाहरण पेश किया है।

लड़कियों को वापस भेजा
दरअसल, एक दिन पहले पाक अधिकृत कश्मीर (PoK) की दो लड़कियां अनजाने में भारतीय सीमा में दाखिल हो गई थीं। भारतीय सेना की नजर जब उनपर पड़ी तो शक के बिनाह पर उनको पकड़ लिया गया लेकिन आज उन्हें वापस भेज दिया गया है। दोनों लड़कियां जम्मू-कश्मीर के पुंछ में भारतीय पक्ष की ओर आ गईं थीं, उन्हें आज चाकन दा बाग क्रॉसिंग पॉइंट से वापस भेज दिया गया।

अनजाने में पार की थी सरहद
जानकारी के मुताबिक पाकिस्तान के कब्जे वाले कश्मीर में कहुता तहसील की निवासी लाईबा जबैर (17) और उसकी छोटी बहन सना जबैर (13) को भारतीय सैनिकों द्वारा इस तरफ आने के बाद रविवार को हिरासत में लिया गया था। रक्षा प्रवक्ता ने कहा, ‘अब्बासपुर की दो लड़कियां जो पीओके की तहसील कहुता से हैं, अनजाने में पुंछ में भारतीय पक्ष में घुस गई थीं। उन्हे आज चाकन दा बाग (सीडीबी) क्रॉसिंग पॉइंट से वापस भेज दिया गया है।’

लड़कियों ने की सेना की तारीफ
इन दोनों लड़कियों को सीडीबी बिंदु पर पाक अधिकारियों ने रिसीव किया। एलओसी पार करने वाली लड़कियों में एक लड़की लाइबा जबैर ने कहा, ‘हमने अपना रास्ता खो दिया और भारतीय क्षेत्र में प्रवेश किया। हमें डर था कि सेना के जवान हमारे साथ मारपीट करेंगे लेकिन उन्होंने हमारे साथ बहुत अच्छा व्यवहार किया। हमने सोचा था कि वे हमें वापस नहीं जाने देंगे लेकिन आज हमें घर भेजा जा रहा है। लोग यहां बहुत अच्छे हैं।’



Source link

Previous Article
Next Article

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *