गाजियाबादः मां के साथ अधिकारी का फर्ज निभाने वाली सौम्या पाण्डेय का ट्रांसफर, कानपुर देहात की बनाई गईं CDO

Spread the love


गाजियाबाद
गाजियाबाद के मोदीनगर की एसडीएम के पद पर तैनात आईएएस सौम्या पांडेय का ट्रांसफर कानपुर देहात कर दिया गया है। सौम्या बीते दिनों तब चर्चा में आईं जब वह अपनी बेटी के साथ दफ्तर में काम करती नजर आईं। कोविड 19 महामारी के भयानक दौर में अपनी जिम्मेदारी समझते हुए महज 22 दिन बाद ही कार्यालय पहुंचकर अपना पदभार सम्भाल लिया। अपनी देखरेख के साथ-साथ बिटिया की भी पूरी तरह देख रेख करते हुऐ अपने काम पूरी जिम्मेदारी से कर रही हैं।

इधर उत्तर प्रदेश के सीएम योगी आदित्यनाथ ने सौम्या का ट्रांसफर कानपुर देहात किया है। सौम्या को कानपुर देहात का सीडीओ बनाया गया है। यहां से उनके मूल निवास की दूरी कम हो गई है।

प्रयागराज की रहने वाली हैं सौम्या
मूल रूप से प्रयागराज की रहने वाली सौम्या पांडेय 2017 बैच की आईएएस अधिकारी हैं। फिलहाल गाजियाबाद में मोदीनगर एसडीएम के पद पर तैनात थीं। सौम्या पांडे ने नियुक्ति के बाद से ही इस कोरोना काल में भी बखूबी अपने कर्तव्य को निभाया है। उन्होंने इसी दौरान एक बिटिया को जन्म दिया। सौम्या ने बिटिया को जन्म देने के बाद सिर्फ 22 दिन का अवकाश लिया और फिर से अपना कार्यभार संभाल लिया। अब वह अपने ऑफिस में बेटी को गोद में लेकर काम करते हुई दिखाई दे रही थीं।

बच्ची को ध्यान में रखकर बरतती हैं जरूरी सावधानियां
आईएएस सौम्या पांडे ने बताया कि जिस पद पर उन्हें रखा गया है उसके साथ इंसाफ करना उनकी जिम्मेदारी है। कोरोना के दौरान भी वह कई अस्पतालों की मॉनिटरिंग कर चुकी है। कोविड-19 को ध्यान में रखते हुए वह अपने साथ-साथ बच्ची का भी विशेष ध्यान रखती हैं। सभी फाइलों को भी वह बार-बार सैनिटाइज करती हैं।

सौम्या ने कहा, गाजियाबाद जिला प्रशासन ने दिया बहुत साथ

उन्होंने बताया कि गर्भावस्था के दौरान से ही अभी तक गाजियाबाद जिला प्रशासन का उन्हें बड़ा सहयोग मिला है और सभी अधीनस्थ कर्मचारियों ने भी उनका भरपूर साथ दिया है। समय पर सभी काम पूरे किए हैं। गाजियाबाद जिला प्रशासन ने उनका एक परिवार की तरह साथ दिया है। इसलिए अब उनका कर्तव्य बनता है कि वह मां के धर्म को निभाते हुए अपनी जिम्मेदारी भी निभाएं।



Source link

Previous Article
Next Article

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *