चांद और धरती के बीच से 1 सितंबर को गुजरेगा Asteroid 2011ES4, 10 साल तक कोई नहीं आएगा इतने करीब

Spread the love


वॉशिंगटन
आने वाली एक तारीख यानी 1 सितंबर को 20-40 मीटर चौड़ा ऐस्टरॉइड 2011ES4 धरती के करीब से 1 सितंबर को गुजरेगा। इसकी धरती से दूरी फिलहाल 1.2 लाख किलोमीटर आंकी गई है यानी यह धरती और चांद के बीच में काफी करीब होगा। यह दूरी वैसे तो काफी कम है लेकिन इसके धरती से टकराने की संभावना न के बराबर है।

धरती को नहीं है खतरा
ये ऐस्टरॉइड 2011 में खोजा गया था और तब सिर्फ 4 दिन के लिए इसे देखा गया था। यह अपना एक चक्कर पूरा करने में 1.14 साल लगाता है। धरती के साथ इसकी कक्षा सिर्फ 9 साल में एक बार इसे हमारे करीब लाती है। हालांकि, इसका रास्ता फिर भी काफी अलग होगा और इससे पृथ्वी या पृथ्वी की किसी आर्टिफिशल सैटलाइट को खतरा नहीं है।

धरती पर गिरे 456 करोड़ साल पुराने इंद्रधनुषी उल्कापिंड में छिपे हो सकते हैं जीवन की उत्पत्ति के राज

US चुनाव से एक दिन पहले आएगा2018VP1
कुछ दिन पहले अमेरिका के राष्ट्रपति चुनाव से एक दिन पहले 2 नवंबर को ऐस्टरॉइड 2018 VP1 के धरती से टकराने की आशंका जताई गई थी। इस ऐस्टरॉइड के धरती से टकराने की संभावना 0.41% है। हालांकि, बावजूद इससे नुकसान का खतरा नहीं है। दरअसल, कार के आकार का यह ऐस्टरॉइड इतना छोटा है कि वायुमंडल में प्रवेश करते ही यह टूटकर जल जाएगा और धरती पर धूल बनकर गिर जाएगा।


अमेरिकी चुनाव से एक दिन पहले आने वाले ऐस्टरॉइड 2018VP1 से धरती को कितना खतरा?

NASA की रहती है नजर
NASA की Sentry Risk Table में ऐसे खतरनाक Asteroids पर नजर रखी जाती है ताकि भविष्य में इनसे होने वाले खतरे से बचा जा सके। इसमें आने वाले 100 सालों के लिए फिलहाल 22 ऐसे ऐस्टरॉइड्स हैं जिनके पृथ्वी से टकराने की थोड़ी सी भी संभावना है। धरती को सबसे ज्यादा खतरा अगर किसी ऐस्टरॉइड से होने वाला है, तो वह है 29075 1950 DA। यह Asteroid एक किलोमीटर चौड़ा है जिसे Potentially Hazardous Asteroids (PHA) की श्रेणी में रखा गया है।

इस Asteroid पर मौजूद पूरी दुनिया से ज्यादा दौलत!

प्रतीकात्मक तस्वीर

प्रतीकात्मक तस्वीर



Source link

Previous Article
Next Article

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *