चीन में मिले 8000 साल पुरानी सभ्यता के सबूत, पहले मानी जा रहीं कई थिअरी फेल

Spread the love


पेइचिंग
पुरातत्वविदों को चीन के शिझियांग में 8000 साल पहले यहां इंसानों के बसने के सबूत मिले हैं। युआओ शहर के जिंगटूशन में एक फैक्ट्री के निर्माण के दौरान यह खोज की गई थी। इससे पहले माना जा रहा था कि यहां का हेमूडू कल्चर 7000 साल पुराना रहा होगा लेकिन ताजा खोज से संकेत मिले हैं कि यह साइट 7300-8300 साल पुरानी हो सकती है। सालों तक रिसर्च करने के बाद पुरातत्वविद इस नतीजे पर पहुंचे हैं कि जमीन के 5-10 मीटर नीचे 8000 स्क्वेयर मीटर में यह साइट फैली है।

करीब 500 साल की सभ्यता
खुदाई के दौरान मटके, मिट्टी के हथियार, हड्डियां, लकड़ी और जानवरों के अवशेष मिले हैं। इस टीम के लीडर प्रफेसर सुन गुओपिंग ने कहा है कि यहां से मिलीं जिन चीजों को स्टडी किया गया है उनसे पता चलता है कि हमारे पूर्वज इस इलाके में 500 साल के लिए रहे होंगे। इससे पहले माना जा रहा था कि हेमडू ने दक्षिणपूर्व चीन में बड़ी भूमिका निभाई होगी क्योंकि जिस यांगजे नदी के पास यह मिली थी, उसने और यलो सी ने चीनी सभ्यता का विकास किया है।


मिल सकेंगे कई सवालों के जवाब
हालांकि, अब जिंगटूशन के बारे में सबूत मिलने से पता चला है कि यहां जैसे लोग सामान बनाते थे और जैसे रहते थे, वह हेमडू से काफी अलग था। इसके साथ ही और पहले के समय के बारे में जानने का मौका मिल रहा है। खास बात यह है कि इसकी मदद से यह पता लगाया जा सकता है कि पिछले 10 हजार साल में यहां जलवायु परिवर्तन का क्या असर रहा है।


दूसरे मिशन में मिलेगी मदद
इस टीम ने परंपरागत तरीकों का इस्तेमाल न करते हुए स्टील के ढांचे तैयार किए और उन्हें बड़े स्तर पर गहराई में दफन अवशेषों की खुदाई की। टीम का कहना है कि यह खोज अकादमिक लिहाज से भी काफी अहम है। इसकी मदद से तटीय चीन में दूसरे मिशन पर काम भी किया जा सकेगा। इससे यहां के प्राचीन इतिहास के बारे में जानकारी जुटाई जा सकेगी।



Source link

Previous Article
Next Article

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *