जालौनः 5 साल की बच्ची के साथ दो नाबालिगों समेत तीन ने किया गैंगरेप, गांववालों ने जूतों की माला पहनाकर निकाला जुलूस

Spread the love


हाइलाइट्स:

  • जालौन में पांच साल की बच्ची के साथ गैंगरेप
  • घर में बुलाकर ले गए 13 और 11 साल के आरोपी
  • गांववालों ने बच्ची को रोता हुआ देखा तो आरोपियों को पकड़ा
  • जूतों का माला पहनाकर गांव में निकाला आरोपियों का जुलूस
  • सूचना पर पहुंची पुलिस ने दोनों आरोपियों को भेजा संप्रेक्षण गृह

जालौन
उत्तर प्रदेश के जालौन जिले में एक नाबालिग दलित बच्ची के साथ रेप का मामला सामने आया है। पांच साल की बच्ची के साथ तीन लोगों ने गैंगरेप किया। दो आरोपियों को पकड़कर गांववालों ने जूतों की माला पहनाकर जुलूस भी निकाला। सूचना पर पहुंची पुलिस ने दोनों आरोपियों को हिरासत में लिया है। पकड़े गए दोनों आरोपी नाबालिग हैं। वहीं बच्ची की हालत गंभीर है। उसे इलाज के लिए झांसी मेडिकल कॉलेज में भर्ती कराया गया है। इधर कांग्रेस ने योगी सरकार पर हमला बोला है।

घटना आटा थाना क्षेत्र के सांडी गांव की है। पुलिस ने बताया कि बुधवार की शाम गांव के एक किसान की बेटी घर के बाहर खेल रही थी। गांव के 13 वर्षीय और 11 साल के दो नाबालिग लड़के आए और बच्ची को बहलाफुसलाकर अपने साथ ले गए।

बच्ची को रोता हुआ देख हुआ शक
13 वर्षीय किशोर बच्ची को अपने घर ले गया। वहां पर एक अन्य युवक भी मौजूद था। तीनों ने मिलकर बच्ची के साथ गैंगरेप किया। उसके बाद बच्ची को वहां से भगा दिया। बच्ची आरोपी के घर से रोती-बिलखती हुई बाहर निकली तो गांववालों को उसे देखकर शक हुआ।

बालिग युवक हुआ फरार
गांववालों ने बच्ची से पूछा तो उसने अपने साथ हुई हैवानियत बयां की। गुस्साए गांववालों ने आरोपी के घर में घुसकर दो किशोरों को बाहर निकाला, जबकि युवक वहां से भाग निकला। एसएसपी अवधेश सिंह ने कहा कि पुलिस ने मामला दर्ज करके आगे कार्रवाई शुरू कर दी है।

गांववालों ने निकाला जुलूस
गांववालों ने किशोर का मुंह काला किया और जूतों की माला पहनाकर उसका गांव में जुलूस निकाला। सूचना पर पहुंची पुलिस ने दोनों किशोरों को अपनी गिरफ्त में ले लिया। उधर बच्ची को सीएचसी ले जाया गया। वहां से जिला अस्पताल और फिर हालत गंभीर होने पर झांसी मेडिकल कॉलेज में भर्ती करवाया गया।

‘गाल बजाने वाले सीएम का होगा हिसाब’
उत्तर प्रदेश कांग्रेस ने सरकार पर हमला बोलते हुए कहा है, ‘जालौन में 5 साल की दलित मासूम के साथ गैंगरेप की घटना हुई है। ‘बेटी बचाओ’ कहकर गाल बजाने वाले सीएम आदित्यनाथ और उनके प्रशासनिक अधिकारियों की हर बार की तरह चुप्पी ही उनका जवाब है। लेकिन प्रदेश की जनता को सब पता है। सही समय पर हिसाब होगा।’



Source link

Previous Article
Next Article

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *