जो बाइडेन ही नहीं, उनके कुत्ते ने भी रचा है इतिहास, वाइट हाउस के फेमस पेट्स के बीच अब आएगी ‘नई दोस्त’

Spread the love


अमेरिका के राष्ट्रपति चुने गए डेमोक्रैट कैंडिडेट और पूर्व राष्ट्रपति जो बाइेडन ने देश के इतिहास में हुए चुनावों में सबसे ज्यादा वोट हासिल कर इतिहास रचा। दिलचस्प बात यह है कि इतिहास सिर्फ बाइडेन ने नहीं, उनके जर्मन शेपर्ड मेजर ने भी बनाया है। आपको बता दें कि बाइडेन के पास दो पालतू कुत्ते हैं जिनमें से एक मेजर वाइट हाउस पहुंचने वाला पहले रेस्क्यू डॉग है। उसी के साथ खेलते हुए बाइडेन के पैर में फ्रैक्चर हुआ है।

यूं आया था मेजर

मेजर को 2018 में डेलवेयर ह्यूमेन असोसिएशन से गोद लिया गया था। बाइडेन ने तब कहा था, ‘हम मेजर को बाइडेन परिवार में शामिल करके बहुत खुश हैं और हम डेलवेयर ह्यूमेन असोसिएशन को मेजर और दूसरे अनगिनत जानवरों के लिए घर ढूंढने का काम करने के लिए आभारी हैं।’

फेमस हैं बाइडेन के पालतू

इससे 10 साल पहले 2008 में उनकी पत्नी जिल ने तोहफे में जो को चैंप दिया था। जब बराक ओबामा सरकार में जो बाइडेन उपराष्ट्रपति बने तब चैंप उनके साथ था। बाइडेन का उनके कुत्तों के प्रति प्रेम जगजाहिर है। वह अपने सोशल मीडिया अकाउंट पर दोनों की तस्वीरें शेयर करते रहते हैं। यहां तक कि दोनों का खुद का अकाउंट भी है जिससे बाइडेन को चुनाव में रेकॉर्डतोड़ वोट मिलने पर बधाई भी दी गई थी।

आने वाली है नई दोस्त

सिर्फ चैंप और मेजर ही नहीं, जल्द ही वाइट हाउस में एक बिल्ली भी रहने वाली है। CBS संडे मॉर्निंग ने ट्वीट कर यह जानकारी दी तो लोगों का एक्साइटमेंट आसमान छूने लगा। वाइट हाउस में कुत्तों और बिल्ली को साथ रखने को लोगों ने ‘बंटे हुए देश को जोड़ने की कोशिश’ तक करार दे डाला। जिल बाइडेन ने सितंबर में ही एक इंटरव्यू के दौरान कहा था कि वे एक बिल्ली चाहते हैं।

वाइट हाउस के पेट्स

इससे पहले वाइट हाउस में बिल और हिलरी क्लिंटन के साथ रही बिल्ली सॉक्स (Socks) बेहद मशहूर हुई थी। वह एक स्ट्रे कैट थी जिसने 1993 से 2001 का वक्त वाइट हाउस में गुजारा था। उनके बाद जॉर्ज बुश भी अपने साथ बिल्ली लाए थे जिसका नाम इंडिया था। वहीं, बराक ओबामा के साथ दो कुत्ते बो और सनी आए थे। 1849 में जेम्स पोक के बाद डोनाल्ड ट्रंप ऐसे पहले राष्ट्रपति रहे जिन्होंने अपने कार्यकाल में किसी पालतू जानवर को नहीं पाला।



Source link

Previous Article
Next Article

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *