टाइम ट्रेवलर का सनसनीखेज दावा, जल्‍द ही तीन दिन के लिए रहस्‍यमय अंधेरे में डूब जाएगी पृथ्‍वी

Spread the love


हाइलाइट्स:

  • टाइम ट्रेवलर ने दावा किया है कि पृथ्‍वी तीन दिन के लिए अंधेरे में डूब जाएगी
  • इस शख्‍स का कहना है कि वह साल 2582 से आया है और आगाह कर रहा है
  • टाइम ट्रेवरल ने अपने दावे को लेकर एक वीडियो भी टिकटॉक पर डाला है

लंदन
खुद को टाइम ट्रेवलर बताने वाले एक शख्‍स ने दावा किया है कि अगले दशक में पृथ्‍वी तीन दिन के लिए अंधेरे में डूब जाएगी। इस शख्‍स का कहना है कि वह साल 2582 से आया है। हालांकि उसने अपने दावे के समर्थन में कोई सबूत नहीं दिया है। टाइम ट्रेवलर ने अपने दावे को लेकर एक वीडियो टिकटॉक पर डाला है। टाइम ट्रेवलर के टिकटॉक पर 6 लाख 30 हजार फॉलोवर हैं।

@timetraveler2582 अकाउंट पर इस शख्‍स ने कई दावे करने वाले वीडियो अपलोड किए हैं। उसके एक वीडियो को 4 लाख बार देखा गया है। इस यूजर ने इशारा किया है कि 6 जून, 2026 को धरती पर कुछ बड़ा होने वाला है। उसने कहा, ‘मानें या नहीं यह वास्‍तव में 6 जून 2026 को होने जा रहा है। इस दिन पृथ्‍वी तीन दिन के लिए अंधेरे में चली जाएगी।’

हजारों की तादाद में लोगों ने प्रतिक्रिया दी
टाइम ट्रेवलर ने अपने इस सनसनीखेज दावे के कारणों को लेकर कोई और सूचना नहीं दी। उसने कहा, ‘उनकी ओर न देखें। आसमान की ओर न देखें, रोशनी प‍िरामिड की ओर से आ रही है। मोमबत्‍ती को छोड़कर किसी और इंसानी प्रकाश का इस्‍तेमाल न करें।’ टाइम ट्रेवलर ने अपने दर्शकों को चेतावनी दी कि उन्‍हें तैयार होना होगा और घर के अंदर ही रहना होगा।

इस वीडियो अ‍ब तक हजारों की तादाद में लोगों ने प्रतिक्रिया दी है। कई लोगों ने मांग की है कि पिरामिड से आने वाले प्रकाश को लेकर और ज्‍यादा जवाब दें। इसके बाद क्‍या होगा, यह भी बताएं। टिकटॉक यूजर ने एक संक्षिप्‍त जवाब दिया है और कहा कि मैं और ज्‍यादा डिटेल जल्‍द दूंगा। यह आपके सभी संदेह को खत्‍म कर देगा। एक यूजर ने कॉमेंट किया, ‘मैं अंधेरे से डरता हूं और मेरे पास मोमबत्‍ती भी नहीं है। क्‍या हम उस समय टीवी और मोबाइल का इस्‍तेमाल कर पाएंगे?’ बता दें कि पहले भी टाइम ट्रेवलर अब तक कई दावे कर चुके हैं लेकिन उनके सत्‍य होने की बात सामने नहीं आई है।



Source link

Previous Article
Next Article

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *