ताइवान को ‘भारत है पसंद’, चीन से फिर कहा, ‘भाड़ में जाओ’

Spread the love


ताइपे
भारत के साथ पूर्वी सीमा पर तनाव में उलझा चीन ताइवान पर लंबे वक्त से दावा ठोंकता रहा है। यहां तक कि वह ताइवान के साथ संबंध रखने पर दूसरे देशों को भी धमकाता रहता है। बावजूद इसके भारत ताइवान के साथ दोस्ताना संबंध रखता है। इसे लेकर बौखलाए चीन को ताइवान ने एक बार फिर दो टूक सुनाई है। दरअसल, 10 अक्टूबर यानी शनिवार को ताइवान का नैशनल डे है जिसके जश्न में शामिल होने के लिए भारतीयों को शुक्रिया कहते हुए ताइवान के विदेश मंत्रालय ने एक बार फिर चीन को इशारा किया है- भाड़ में जाओ।

भारत से दोस्ती, चीन को धता
ताइवान के विदेश मंत्रालय ने शुक्रवार को ट्वीट किया- ‘भारत से कई दोस्त दोस्त ताइवान नैशनल डे के जश्न में शामिल होने के लिए तैयार हैं। ताइवान में हमारे दिल इस अद्भुत समर्थन से खुश हैं। शुक्रिया। जब हम कहते हैं कि हमें भारत पसंद है, हम उसे मानते हैं। ‘गेट लॉस्ट’। गौरतलब है कि इससे पहले जब भारत में चीनी दूतावास ने भारतीय मीडिया से कार्यक्रम से दूर रहने के लिए कहा था तब भी ताइवान ने चीन को करारा जवाब दिया था।

Taiwan के राष्ट्रीय दिवस के कवरेज पर चीन की भारतीय मीडिया को नसीहत, ताइपे ने दिया करारा जवाब

‘भाड़ में जाओ’
ताइवान के विदेश मंत्रालय ने ट्वीट किया था, ‘भारत धरती पर सबसे बड़ा लोकतंत्र है जहां जीवंत प्रेस और आजादपसंद लोग हैं। लेकिन ऐसा लगता है कि कम्यूनिस्ट चीन सेंसरशिप थोपकर उपमहाद्वीप में घुसना चाहता है। ताइवान के भारतीय दोस्तों का एक ही जवाब होगा- भाड़ में जाओ।’

दरअसल, 10 अक्टूबर को ताइवान का राष्ट्रीय दिवस है। चीन उसे अपना हिस्सा मानता है और चाहता है कि पूरी दुनिया उसे उसके ही हिस्से के तौर पर स्वीकार करे। खास बात यह है कि वन चाइना की दुहाई देने वाला चीन लद्दाख को केंद्रशासित प्रदेश बनाने को ‘अवैध’ बताता आया है, जो भारत की क्षेत्रीय संप्रभुता का अपमान है।



Source link

Previous Article
Next Article

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *