दक्षिणी चीन सागर में बढ़ा बवाल, मलेशिया ने चीन के 6 जहाजों को घेरा, 60 हिरासत में

Spread the love


क्वालालंपुर
साउथ चाइना सी में बढ़ते तनाव के बीच मलेशिया ने शनिवार को चीन के छह जहाजों को घेर लिया। चीन के ये जहाज जानबूझकर मलेशियाई जलसीमा में मछली पकड़ रहे थे। जिसके बाद हरकत में आई मलेशियाई नौसेना ने कार्रवाई करते हुए इन जहाजों पर सवार 60 चीनी नागरिकों को गिरफ्तार कर लिया। कुछ ही दिन पहले इंडोनेशिया ने भी चीनी कोस्टगार्ड के एक शिप को अपनी समुद्री सीमा से बाहर खदेड़ा था।

मलेशियाई रक्षा मंत्रालय ने जारी किया बयान
मलेशियाई रक्षा मंत्रालय ने बताया कि 60 चीनी नागरिकों को पूर्वी मलेशियाई राज्य जोहोर के पूर्वी तट पर एक अभियान के दौरान हिरासत में लिया गया था। चीन के सभी जहाज क्विनहंगडाओ बंदरगाह में पंजीकृत थे। मलेशियाई जलसीमा में 2016 से 2019 के बीच चीन के जहाजों ने कम से कम 89 बार घुसपैठ की है। इसके बाद से ही मलेशिया ने अपनी समुद्री सीमा पर गश्त को बढ़ा दिया था।

चीन के दावे को खारिज कर चुका है मलेशिया
मलेशिया पहले ही साउथ चाइना सी पर चीन के कथित दावे को खारिज कर दिया है। संयुक्त राष्ट्र में मलेशिया के स्थायी मिशन ने 29 जुलाई को संयुक्त राष्ट्र महासचिव को भेजे गए एक नोट में चीन के दावे को खारिज कर दिया था। चीन दक्षिणी चीन सागर के अधिकतर हिस्से पर अपना दावा जताता रहा है। इस नोट में मलेशिया ने कहा था कि पूर्वी सागर (जिसे दक्षिण चीन सागर भी कहा जाता है) में समुद्री सुविधाओं के लिए चीन के दावे का अंतर्राष्ट्रीय कानून के तहत कोई आधार नहीं है। जिसके बाद मलेशिया की सरकार ने चीन के ऐतिहासिक, संप्रभु और कानूनी अधिकार क्षेत्र के दावों को भी खारिज कर दिया था।

अब इंडोनेशिया ने खदेड़ा चीन का गश्ती जहाज, साउथ चाइना सी में तनाव चरम पर

साउथ चाइना सी में चीन का इन देशों से विवाद
साउथ चाइना सी के 90 फीसदी हिस्से पर चीन अपना दावा करता है। इस समुद्र को लेकर उसका फिलीपींस, मलेशिया, ब्रुनेई और वियतनाम के साथ विवाद है। वहीं, पूर्वी चाइना सी में जापान के साथ चीन का द्वीपों को लेकर विवाद चरम पर है। हाल में ही अमेरिका ने साउथ चाइना सी पर चीन के दावे को खारिज कर दिया था।


चीन समुद्र में चला रहा पावर गेम
साउथ चाइना सी में ‘जबरन कब्‍जा’ तेज कर दिया है। पिछले रविवार को चीन ने साउथ चाइना सी की 80 जगहों का नाम बदल दिया। इनमें से 25 आइलैंड्स और रीफ्स हैं, जबकि बाकी 55 समुद्र के नीचे के भौगोलिक स्‍ट्रक्‍चर हैं। यह चीन का समुद्र के उन हिस्‍सों पर कब्‍जे का इशारा है जो 9-डैश लाइन से कवर्ड हैं। यह लाइन इंटरनैशनल लॉ के मुताबिक, गैरकानूनी मानी जाती है। चीन के इस कदम से ना सिर्फ उसके छोटे पड़ोसी देशों, बल्कि भारत और अमेरिका की टेंशन भी बढ़ गई है।



Source link

Previous Article
Next Article

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *