देवरियाः ‘रेपिस्ट को टिकट!’.. विरोध किया तो महिला नेता के साथ कांग्रेसियों ने की हाथापाई

Spread the love


हाइलाइट्स:

  • देवरिया में महिला कांग्रेस नेता के साथ पार्टी कार्यकर्ताओं ने की हाथापाई
  • देवरिया से मुकुंद भास्कर को टिकट देने का विरोध कर रही थीं महिला नेता
  • महिला नेता तारा यादव ने प्रियंका यादव से मामले में ऐक्शन लेने की अपील की है

देवरिया
उत्तर प्रदेश के देवरिया जिले में कांग्रेस के एक कार्यक्रम में महिला नेता के साथ कार्यकर्ताओं की हाथापाई का मामला सामने आया है। कांग्रेस कार्यकर्ता तारा यादव ने आरोप लगाया है कि पार्टी के कार्यकर्ताओं ने उनके साथ मारपीट की है क्योंकि वह पार्टी के फैसले पर सवाल उठा रही थीं। उन्होंने मामले के संबंध में प्रियंका गांधी से भी जवाब मांगा है।

जानकारी के मुताबिक, देवरिया में उपचुनाव के मद्देनजर कांग्रेस पार्टी ने मुकुंद भास्कर को टिकट दिया है। पार्टी की नेता तारा यादव ने भास्कर को टिकट देने पर ऐतराज जताया, जिसके बाद उनके साथ कार्यक्रम में पार्टी कार्यकर्ताओं द्वारा ही बदसलूकी की गई। तारा यादव ने आरोप लगाया कि पार्टी कार्यकर्ताओं ने उनके साथ मारपीट की, जब वह एक ‘रेपिस्ट’ मुकुंद भास्कर को टिकट के पार्टी के फैसले पर सवाल उठा रही थीं।

क्या ऐक्शन लेंगी प्रियंका?
उन्होंने कहा कि वह अब प्रियंका गांधी के जवाब का इंतजार कर रही हैं कि वह इस मामले में क्या ऐक्शन लेती हैं। तारा ने कहा, ‘एक तरफ हमारी पार्टी की नेता हाथरस केस की पीड़िता को न्याय दिलाने के लिए लड़ाई लड़ रही हैं, दूसरी तरफ पार्टी का टिकट एक रेपिस्ट को दिया जा रहा है। यह एक गलत फैसला है।’ उन्होंने कहा कि पार्टी का यह फैसला कांग्रेस की छवि को खराब करेगा।

महिला आयोग ने संज्ञान में लिया मामला
वहीं, महिला आयोग ने इस मामले को संज्ञान में लिया है। आयोग की चेयरपर्सन रेखा शर्मा ने कहा कि हमने इस घटना को संज्ञान में लिया है, जिसमें तकरीबन 25 लोग एक महिला नेता को पीट रहे हैं। यह एक गंभीर मसला है जब हम कह रहे हैं कि महिलाओं को पॉलिटिक्स में शामिल होना चाहिए। उन्होंने कहा कि राजनीतिक लोग महिला कार्यकर्ताओं के साथ गुंडों की तरह बर्ताव करते हैं। अब वक्त है कि उन्हें दंड मिलना चाहिए।

तारा यादव (कांग्रेस कार्यकर्ता)



Source link

Previous Article
Next Article

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *