‘दो पैसे वाली प्रेस’ बयान पर घिरीं टीएमसी सांसद महुआ मोइत्रा, सफाई में बोलीं, ‘मोबाइल फोन रखने वाला हर शख्स पत्रकार नहीं’

Spread the love


हाइलाइट्स:

  • पश्चिम बंगाल में मीडिया बिरादरी ने तृणमूल कांग्रेस की सांसद महुआ मोइत्रा की टिप्पणी को लेकर नाराजगी जाहिर की है
  • महुआ मोइत्रा ने एक पत्रकार को कथित तौर पर ‘दो पैसे वाली’ मीडिया बोला था, कोलकाता प्रेस क्लब ने मोइत्रा से माफी की मांग की है
  • सांसद ने सफाई देते हुए कहा, ‘यह बंद कमरे में बैठक थी मैंने अपने पार्टी कार्यकर्ताओं से कहा था कि यहां प्रेस को क्यों बुलाया गया है

कोलकाता
पश्चिम बंगाल में मीडिया बिरादरी ने तृणमूल कांग्रेस की सांसद महुआ मोइत्रा की उस टिप्पणी को लेकर नाराजगी जाहिर की है जिसमें उन्होंने प्रेस को कथित तौर पर ‘दो पैसे वाली’ मीडिया बोला था। कोलकाता प्रेस क्लब ने मोइत्रा से माफी की मांग की है। वहीं सांसद ने इस पर सफाई देते हुए कहा है कि यह एक बंद कमरे की बैठक थी इसलिए उन्होंने अपने पार्टी कार्यकर्ताओं से कहा था कि यहां प्रेस को क्यों बुलाया गया है?

मोइत्रा ने इस संबंध में ट्विटर पर एक तरफ माफी मांगी और दूसरी तरफ खुद को सही बताया। अपनी सफाई में मोइत्रा ने कहा कि रिपोर्टर को जिला यूनिट के एक धड़े ने बंद कमरे की बैठक में बुलाया था। यह धड़ा पार्टी में हालिया संगठनात्मक बदलाव से नाखुश था। मैंने पार्टी कार्यकर्ताओं से नाराज होते हुए कहा था कि पत्रकार को यहां क्यों बुलाया गया है।

‘प्रेस क्लब को पत्रकारों को ट्रेनिंग देनी चाहिए’
प्रेस क्लब की नाराजगी पर सांसद ने कहा, ‘प्रेस क्लब को इसके बजाय पत्रकारों को ट्रेनिंग देनी चाहिए। हर मोबाइल फोन लिए शख्स पत्रकार नहीं होता। यह एक बंद कमरे की बैठक थी और मैंने अपने कार्यकर्ताओं को भी फोन रखने की इजाजत नहीं दी थी।’

बंद कमरे की बैठक में पत्रकार को देख भड़कीं महुआ
दरअसल सोशल मीडिया पर वीडियो वायरल हो रहा है जिसमें कृष्णानगर से सांसद महुआ मोइत्रा पार्टी की अंदरूनी बैठक में पत्रकार को देखकर नाराज होती दिख रही हैं। उन्हें वीडियो में यह कहते हुए भी सुना जा सकता है, ‘किसने यहां ‘दो पोइसर’ (दो पैसे की कीमत) वाली प्रेस को बुलाया है? इन्हें कार्यक्रम स्थल से हटा दिया जाए। हमारी पार्टी के कुछ सदस्य ऐसे लोगों को टीवी पर अपना चेहरा दिखाने के लिए बंद-दरवाजे की बैठकों में आमंत्रित करते हैं। यह नहीं किया जाना चाहिए।’

प्रेस क्लब ने की बयान वापस लेने की मांग
प्रेस क्लब-कोलकाता ने एक बयान में मोइत्रा की टिप्पणियों को निंदनीय बताया और कहा कि उन्हें अपनी टिप्पणियां वापस लेनी चाहिए और माफी मांगनी चाहिए। बयान में कहा गया है,‘उनका यह कथन निस्संदेह अनुचित और अपमानजनक है क्योंकि लोकतंत्र में एक पत्रकार का महत्व और उसके पेशे के प्रति सम्मान सार्वभौमिक रूप से मान्यता प्राप्त है।’

प्रेस क्लब ने कहा है, ‘एक पत्रकार का अपने पेशे और उसकी सामाजिक जिम्मेदारी के लिए लड़ाई और संघर्ष सभी को पता है। किसी को भी किसी मीडियाकर्मी का अपमान करने का अधिकार नहीं है, हम सांसद की टिप्पणी की निंदा करते हैं और आशा व्यक्त करते हैं कि वह इसे तुरंत वापस लेंगी और माफी मांगेंगी।’

समाचार एजेंसी भाषा के इनपुट के साथ



Source link

Previous Article
Next Article

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *