धर्मेन्द्र ने शेयर किया इमोशनल वीडियो, जिसमें कैद है करियर के शुरू में उनके रिजेक्शन का किस्सा

Spread the love


धर्मेन्द्र फिल्मों से भले अब दूर हों लेकिन सुर्खियों में हमेशा रहते हैं। गुजरे दौर के सुपरस्टार रहे धर्मेन्द्र सोशल मीडिया पर काफी ऐक्टिव रहते हैं और उन्होंने अब एक दिल को छू जाने वाला वीडियो शेयर किया है। इस वीडियो में धर्मेन्द्र ने अपने स्ट्रगल वाले दिनों को याद किया है, जो यकीनन फैन्स को भावुक कर देने वाला है।

धर्मेन्द्र ने इस वीडियो को शेयर करते हुए लिखा है, ‘बहानें तलाश लेता हूं बात करने के।’ वीडियो में कहा जा रहा है, ‘गेहूं के सुनहरे खेतों के बीच बचपन बीता। उम्र के साथ हौंसला बढ़ा। फिल्मी दुनिया की कशिश ने धर्मेन्द को एक नई मंजिल का राही बना दिया। शायद चांद पर जाना आसान है, लेकिन फिल्मी दुनिया में कदम रखना बहुत मुश्किल। कुछ निर्माताओं ने तो दर्शन तक देना कुबूल न किया। एक ने तो यहां तक कहा कि मुझे ऐक्टर चाहिए हॉकी प्लेयर नहीं।’


इस वीडियो में आगे कहा जा रहा है, ‘फिल्मफेयर टैलंट कॉन्टेस्ट जीतने के बाद भी इस मायानगरी के द्वार उनके लिए नहीं खुले। दिल की दुनिया सपनों की दुनिया बनी जा रही थी। आखिर निराशा आशा में बदली और पहली फिल्म दिल भी तेरा हम भी तेरे मिली।’


बता दें कि धर्मेंद्र सोशल मीडिया पर ऐक्टिव रहते हैं और फैन्स के साथ अपने मन की बातें शेयर करते रहते हैं। अपने बीते दिनों के कई किस्स धर्मेन्द्र सुना चुके हैं। धर्मेंद्र ने बताया है कि क्लास 8 तक कोई फिल्म नहीं देखी थी क्योंकि उनके मात-पिता बहुत सख्त थे। एक बार उनके कुछ दोस्त फिल्म देखकर आए और काफी खुश थे। जब धर्मेंद्र ने उनसे पूछा कि फिल्म कैसी होती है तो दोस्त उन्हें समझा नहीं पाए बस इतना कहा कि तस्वीरें बोलती हैं।


धर्मेंद्र ने 9वीं क्लास में पहली बार फिल्म देखी। यह फिल्म दिलीप कुमार की ‘शहीद’ थी। फिल्म देखकर धर्मेंद्र एकदम खो गए। और उन्हें लगा कि किस खूबसूरत दुनिया के हैं ये लोग। यह स्वर्ग है कहां। उसी दिन से वह फिल्मलाइन में जाने का सपना देखने लगे। वह दिलीप कुमार के बहुत बड़े फैन भी हैं।

पिता से छिपाकर वह फिल्मफेयर टैलंट हंट प्रतियोगिता में हिस्सा लेकर मुंबई पहुंचे और यहीं से उनका फिल्मी सफर शुरू हो गया। सिनेमा को वह अपना पहला प्यार बताते हैं।





Source link

Previous Article
Next Article

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *