पराई महिलाओं संग रात बिताते थे लॉर्ड माउंटबेटन, ब्रिटेन के शाही बॉयोग्राफर ने किया दावा

Spread the love


भारत के अंतिम वायसराय लॉर्ड माउंटबेटन ने एक बार स्‍वीकार किया था कि उन्‍होंने और उनकी पत्‍नी ए‍डविना माउंटबेटन ने दूसरों के बिस्‍तर में अपना पूरा वैवाहिक जीवन गुजार दिया था। यह कहना है कि ब्रिटेन के शाही बॉयोग्राफर फिलीप जेइगलर का। लॉर्ड माउंटबेटन महारानी के परिवार के सदस्‍य थे और राजकुमार फिलीप के चाचा लगते थे। माउंटबेटन राजकुमार चार्ल्‍स के संरक्षक भी थे। एडविना की मौत के बाद माउंटबेटन के कई युवतियों से संबंध रहे। बाद में उनकी हत्‍या कर दी गई। आइए जानते हैं पूरा मामला….

​प्रिंस चार्ल्‍स ने माउंटबेटन की बेवफाई पर साधा था न‍िशाना

नेटफिल्‍क्‍स पर दिखाए जा रहे शो ‘द क्राउन’ में लॉर्ड माउंटबेटन के शाही परिवार पर पड़े प्रभाव के बारे में दिखाया जा रहा है। इसमें कहा गया है कि लॉर्ड माउंटबेटन का राजकुमार फिलीप और राजकुमार चार्ल्‍स पर काफी प्रभाव पड़ा था। शो में शाही परिवार के सूत्रों के हवाले से दिखाया गया है कि प्रिंस चार्ल्‍स ने कैमिला पार्कर के साथ अपने अवैध संबंधों पर बहस करते समय माउंटबेटन को उनकी बेवफाई का भी हवाला दिया था। माउंटबेटन ने प्रिंस चार्ल्‍स को शादी की पवित्रता को बनाए रखने के लिए कहा था लेकिन इस पर उन्‍होंने जोरदार पलटवार किया था। प्रिंस चार्ल्‍स ने माउंटबेटन से कहा था कि आप मुझे शादी की शुचिता बनाए रखने पर लेक्‍चर दे रहे हैं लेकिन आप और एडविना इस मामले में काफी पीछे हैं।

​’एडविना और लॉर्ड माउंटबेटन दोनों के थे दूसरों से रिश्‍ते’

द क्राउन में शाही परिवार के ड्रामे में दिखाया गया है कि इस बात के पर्याप्‍त साक्ष्‍य हैं कि माउंटबेटन और उनकी पत्‍नी ए‍डविना के बाहरी लोगों के साथ संबंध थे। फिलीप जेइगलर ने अपनी किताब ‘माउंटबेटन: द ऑफिशल बॉयोग्राफी’ में लिखा है, ‘एक बार माउंटबेटन ने स्‍वीकार किया था कि एडविना और मैंने अपना पूरा वैवाहिक जीवन दूसरों के बिस्‍तर में गुजारते हुए बिता दिया।’ माउंटबेटन की बेटी पामेला हिक्‍स ने भी अपनी किताब ‘डॉटर ऑफ एंपायर: लाइफ एज ए माउंटबेटन’ में कहा था कि उनके पिता का योला लेटेलिअर के साथ कई सालों तक प्रेम संबंध चला था। योला डेउविले के मेयर हेनरी की पत्‍नी थीं।

​बड़े बाप की बेटी थीं एडविना, कई मर्दों से थे संबंध

ब्रिटिश अखबार एक्‍सप्रेस के मुताबिक एडविना एक धनी परिवार से थीं और उनके पिता ब्रिटेन के सांसद थे। ए‍डविना का कई मर्दों के साथ प्रेम संबंध था और वह उसे माउंटबेटन से छिपाती भी नहीं थीं। हिक्‍स ने अपनी मां को पुरुषों को आकृष्‍ट करने वाली महिला करार दिया था। पामेला हिक्‍स ने कहा कि उनकी मां के प्रेमी पूरे बचपन में ‘अंकल’ बनकर आते रहे। एंड्रू लोनी ने अपनी वर्ष 2019 में आई किताब में कहा था कि एडविना का लॉर्ड माउंटबेटन के साथ शादी के तीन साल बाद ही वर्ष 1925 में दूसरों के साथ प्रेम संबंध शुरू हो गया था। उनका कथित रूप से हूग मोल्‍यनेऑक्‍स के साथ 10 साल तक अफेयर चला था। इसके बाद एडविना का स्‍टीफन लॉडी के साथ संबंध शुरू हुआ जो काफी धनी थे और पोलो खेलते थे।

​माउंटबेटन कई सालों तक एडविना के रिश्‍तों से रहे अंजान

एंड्रू लोनी ने अपनी किताब में बताया कि माउंटबेटन को एडविना के साथ रिश्‍तों के बारे में कई सालों तक पता नहीं चल पाया था। सबसे पहले प्रिंस ऑफ वेल्‍स एडवर्ड सप्‍तम ने उन्‍हें इस बारे में आगाह किया। सितंबर 1926 में एडविना को माइक वारडेल के साथ देखा गया था। ए‍डविना माउंटबेटन के साथ कई साल तक अपने तीनों प्रेमियों को भी संभालती रहीं। इस दौरान कई बार एडविना के प्रेमियों ने कई बार माउंटबेटन से तलाक के लिए जोर दिया। एडविना का गायक लेस्‍ली हचिंसन के साथ भी नाम जुड़ा था। उधर, एडविना की मौत के बाद माउंटबेटन का कई युवतियों के साथ प्रेम संबंध रहा और खुद उनकी बेटी पैट्रिसिया, सचिव जॉन बरेट ने इसे स्‍वीकार किया है। माउंटबेटन की वर्ष 1979 में हत्‍या कर दी गई थी।

​’एडविना-पंडित जवाहर लाल नेहरू में था भावनात्‍मक रिश्‍ता’

माउंटबेटन की बेटी पामेला हिक्‍स ने अपनी किताब ‘डॉटर ऑफ़ एम्पायर’ में लिखा है कि उनकी मां और भारत के प्रधानमंत्री जवाहर लाल नेहरू के बीच प्रेम संबध था। उन्‍होंने कहा, ‘मेरी मां और पंडित नेहरू जी एक-दूसरे को बहुत प्यार करते थे। पुराना मुहावरा सोलमेट उन दोनों पर पूरी तरह लागू होता था। मेरे पिता बहुर्मुखी थे, जबकि मेरी मां अपने-आप में ही रहना पसंद करती थीं। वह बहुत लंबे समय तक विवाहित रहे थे और एक-दूसरे के बहुत नज़दीक साथी भी थे लेकिन इसके बावजूद मेरी मां अकेलेपन की शिकार थीं। इसी बीच उनकी मुलाकात एक ऐसे व्‍यक्ति से हुई जो संवेदनशील, आकर्षक, सुसंस्कृत और बेहद मनमोहक था। शायद यही वजह थी कि वह उनके प्यार में डूब गईं।’



Source link

Previous Article
Next Article

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *