पाकिस्तान ने भारत के 17 मछुआरों को किया गिरफ्तार, तीन नावों को भी किया जब्त

Spread the love


हाइलाइट्स:

  • पाकिस्तान ने भारत के 17 मछुआरों को जलीय सीमा पार करने पर गिरफ्तार किया
  • भारत-पाकिस्तान में समुद्री सीमा के स्पष्ट सीमांकन न होने से जलीय सीमा पार कर जाते हैं मछुआरे
  • पाकिस्तान आरोप- पाकिस्तान के जलक्षेत्र में 10-15 समुद्री मील अंदर थे ये मछुआरे

कराची
पाकिस्तान ने 17 भारतीय मछुआरों को देश के जलक्षेत्र में कथित रूप से प्रवेश करने के लिए गिरफ्तार किया है और उनकी तीन नौकाओं को जब्त कर लिया है। पाकिस्तान समुद्री सुरक्षा एजेंसी (पीएमएसए) के एक प्रवक्ता ने बताया कि शुक्रवार को गिरफ्तार किए गए मछुआरों को शनिवार को न्यायिक मजिस्ट्रेट के सामने पेश किया गया और पुलिस को सौंप दिया गया है।

पाकिस्तान ने चेतावनी को अनसुना करने का आरोप लगाया
पाकिस्तानी अधिकारी ने कहा कि भारतीय मछुआरों को चेतावनी दी गई थी कि वे पाकिस्तान के जलक्षेत्र में हैं और उन्हें दूर चले जाना चाहिए लेकिन उन्होंने चेतावनी नहीं सुनी। प्रवक्ता ने कहा कि 17 मछुआरों को गिरफ्तार करने के लिए तेज गति वाली नौकाओं का इस्तेमाल किया गया जो पाकिस्तान और भारत के बीच तटीय सीमा सर क्रीक के पास पाकिस्तान के जलक्षेत्र में 10-15 समुद्री मील अंदर थे।

एक साल बाद पाकिस्तान ने गिरफ्तार किए भारतीय मछुआरे
भारतीय मछुआरों को कराची में मलिर या लांधी जेल भेजा जाता है। यह गिरफ्तारी एक वर्ष के अंतराल के बाद हुई है जब 23 भारतीय मछुआरों को गिरफ्तार किया गया था और मछली पकड़ने वाली उनकी चार नौकाओं को समुद्री सुरक्षा एजेंसी ने जब्त किया था।

कैसे भारतीय जलक्षेत्र को पार कर लेते हैं मछुआरे?
पाकिस्तान और भारत अक्सर एक दूसरे के मछुआरों को गिरफ्तार करते रहते हैं क्योंकि अरब सागर में समुद्री सीमा का कोई स्पष्ट सीमांकन नहीं है और मछुआरों के पास उनके सटीक स्थान को जानने के लिए तकनीक से लैस नौकाएं नहीं हैं। सुस्त नौकरशाही और लंबी विधिक प्रक्रियाओं के कारण, मछुआरे आमतौर पर कई महीनों तक जेलों में रहते हैं और कभी-कभी सालों तक भी।



Source link

Previous Article
Next Article

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *