पाकिस्तान में TikTok पर से बैन हटा, जानें क्या रहीं वजहें

Spread the love


नई दिल्ली।
पाकिस्तान की इमरान खान सरकार ने चाइनीज शॉर्ट वीडियो मेकिंग ऐप टिकटॉप पर लगे बैन को हटा दिया है। पाकिस्तान सरकार ने इस महीने टिकटॉक पर अश्लीलता फैलाने और अभद्रता को बढ़ावा देने का आरोप लगाते हुए बैन कर दिया था। अब खबरें आ रही हैं कि टिकटॉक ने उन सभी यूजर्स के अकाउंट ब्लॉक कर दिए हैं, जो अपने अकाउंट पर अश्लील वीडियो डालते थे और अनैतिक चीजों का प्रसार करते थे।

ये भी पढ़ें- 15 हजार से कम में मिल रहे इन कंपनियों के 32 इंच के धांसू स्मार्ट टीवी

टिकटॉक पॉलिसी में बदलाव
पाकिस्तान स्थित टिकटॉक के अधिकारियों ने बताया कि उन्होंने इमरान खान सरकार की शर्तों को मानते हुए अपनी कंटेंट पॉलिसी को बेहतर बनाया है, ताकि किसी तरह के अश्लील और आपत्तिजनक कंटेंट का प्रसार न हो। आपको बता दूं कि बीते हफ्ते इस तरह की खबरें आने लगी थी कि टिकटॉक ने पाकिस्तान से अपना बोरिया-बिस्तर समेट लिया है और भारत और अमेरिका के बाद अब पाकिस्तान में भी उसकी दाल नहीं गलने वाली है, लेकिन अब खबर आ रही है कि टिकटॉक पर लगे बैन को पाकिस्तान सरकार ने हटा लिया है।

ये भी पढ़ें- iPhone 12 Mini की तरह Redmi Mini लॉन्च करने की तैयारी में Xiaomi?

इमरान खान सरकार के आगे टिकटॉक बेबस

पाकिस्तान में खूब पॉप्युलर है टिकटॉक
पाकिस्तान टेलिकम्यूनिकेशन ऑथोरिटी (PTA) के प्रवक्ता ने बताया है कि टिकटॉक स्थानीय नियमों को मानने और अपनी पॉलिसी में बदलाव करने को राजी है, जिससे टिकटॉक के जरिये पाकिस्तान में और अश्लीलता और अभद्रता का प्रसार न हो। पाकिस्तान में टिकटॉक के 20 मिलियन यूजर हैं और बीते एक साल से वह पाकिस्तान में फेसबुक और वॉट्सऐप के बाद सबसे ज्यादा डाउनलोड किया जाने वाला ऐप है।

ये भी पढ़ें- OnePlus 8T का धमाल, सिर्फ 1 मिनट में बिके 100 करोड़ रुपये से ज्यादा के फोन

भारत और अमेरिका में बैन
कुछ महीने पहले चीन से सीमा विवाद की सूरत में भारत सरकार ने टिकटॉक को देश में हमेशा के लिए बैन कर दिया था। टिकटॉक के भारत में 100 मिलियन से ज्यादा यूजर थे। बाद में अमेरिका ने भी टिकटॉक को बैन कर दिया था। अमेरिका में माइक्रोसॉफ्ट ने टिकटॉक को खरीदने की कोशिश की, लेकिन डील फाइनल नहीं हो पाई। टिकटॉक यूथ के बीच काफी पॉप्युलर है और हजारों यूजर्स के लिए यह आय का भी जरिया है।



Source link

Previous Article
Next Article

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *