पैगंबर कार्टून‍ विवाद: फ्रांस में एफिल टॉवर के नीचे दो मुस्लिम महिलाओं को कई बार चाकू मारा, दी गाली

Spread the love


पेरिस
पैगंबर कार्टून विवाद में फ्रांस में एक शिक्षक के इस्‍लामिक कट्टरपं‍थी के गला काट देने के बाद अब पेरिस में एफिल टॉवर के नीचे दो मुस्लिम महिलाओं को कई बार चाकू मारकर घायल कर दिया गया। इस दौरान ‘गंदे अरबी’ कहकर उन्‍हें गाली भी दी गई। इस बीच फ्रांस की पुलिस ने दो महिला संदिग्‍धों को इस नस्‍ली हमले के बाद अरेस्‍ट किया है।

पुलिस ने जिन महिलाओं को हिरासत में लिया है, वे गोरी महिलाएं हैं और ‘यूरोप की लग रही’ हैं। पेरिस के अभियोजकों ने कहा कि इन महिलाओं के खिलाफ अब हत्‍या के प्रयास का मुकदमा चलेगा। इस हमले में घायल महिलाओं की पहचान अल्‍जीरिया मूल की फ्रांसीसी महिला केन्‍जा और अमेल के रूप में हुई है। केंजा को 6 बार चाकू मारा गया और उन्‍हें अस्‍पताल में भर्ती कराया गया है

अमेल को भी अस्‍पताल में भर्ती कराया गया है और उनके हाथों की सर्जरी हुई है। इस हमले के बार में आधिकारिक सूचना नहीं आने से सोशल मीडिया पर लोगों में जमकर उबाल देखा गया। कई लोगों ने इस हमले की तस्‍वीरें भी शेयर की हैं। हमले की यह घटना रविवार रात की बताई जा रही है। पेरिस पुलिस ने एक बयान जारी करके कहा कि 18 अक्‍टूबर को रात करीब 8 बजे पुलिस को सूचना मिली कि दो महिलाएं चाकू के हमले में घायल हैं।

पेरिस पुलिस के सूत्रों ने डेली मेल को बताया कि चाकू से हमला करने के मामले में हत्‍या के प्रयास का मुकदमा दर्ज कर लिया गया है और मामले की जांच जारी है। हमले की शिकार हुई एक महिला ने अपना चेहरा ढंक रखा था। केंजा ने बताया कि हम वॉक करने के लिए गए थे। एफिल टॉवर के पास एक हल्‍के अंधेरे वाला पार्क है और हम वहां पर थोड़ा घूमने लगे।

केंजा ने कहा, ‘जब हम घूम रहे थे, उसी समय दो कुत्‍ते हमारी तरफ आ गए। इससे हमारे बच्‍चे डर गए। मेरी कजिन ने बुर्का पहन रखा था। उसने कुत्‍ते की साथ आई दो महिलाओं से अनुरोध किया कि बच्‍चे डर रहे हैं, इसलिए वे अपने कुत्‍ते को थोड़ा दूर लेकर चली जाएं। इस अनुरोध के बाद कुत्‍ते की मालकिन ने जाने से मना कर दिया और दोनों के बीच तीखी बहस शुरू हो गई।’ इसके बाद कुत्‍ते के साथ आई महिलाओं ने कथित रूप से चाकू निकाल ली और केंजा तथा अमेल पर हमला कर दिया।



Source link

Previous Article
Next Article

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *