ब्राजील: जमीन के इतने करीब से गुजरा उल्कापिंड, रात में हो गया दिन

Spread the love


ब्रासीलिया
ब्राजील में पिछले दिनों लोगों को एक अद्भुत नजारा देखने को मिला। यहां एक उल्कापिंड वायुमंडल में जा टकराया जिससे रात का आसमान दिन जैसा हो गया। रियो ग्रांडे डो सुल में कैमरों ने इस नजारे को कैद किया जिससे एक्सपर्ट्स अब इसे स्टडी कर रहे हैं। ब्राजील के उल्कापिंड ऑब्जर्वेशन नेटवर्क (BRAMON) ने बताया कि एक छोटा उल्कापिंड वायुमंडल से 17 किमी प्रतिसेकंड की स्पीड से जा टकराया।

अंतरराष्ट्रीय उल्कापिंड संगठन (IMO) ने बताया, ‘एक चमकीला आग का गोला ब्राजील के ऊपर से गुजरा जब 6 सेकंड का उल्कापिंड करीब 40 लोगों ने देखा।’ BRAMON के मुताबिक इससे रात के वक्त दिन जैसी रोशनी हो गई थी। जानकारी के मुताबिक यह आग का गोला उत्तर की ओर 17 किमी प्रति सेकंड की स्पीड से गया। आखिरी फ्लैश जब देखा गया तब यह 22 किमी ऊंचाई पर रहा होगा।

क्या होते हैं उल्कापिंड?
उल्कापिंड ऐस्टरॉइड यानी स्पेस की चट्टान का हिस्सा होते हैं। किसी वजह से ऐस्टरॉइड के टूटने पर उनका छोटा सा टुकड़ा उनसे अलग हो जाता है जिसे उल्कापिंड यानी meteroid कहते हैं। जब ये उल्कापिंड धरती के करीब पहुंचते हैं तो वायुमंडल के संपर्क में आने के साथ ये जल उठते हैं और हमें दिखाई देती एक रोशनी जो Shooting Star यानी टूटते तारे की तरह लगती है लेकिन ये वाकई में तारे नहीं होते। इन्हें Meteor कहा जाता है और ढेर सारे उल्कापिंडों की बरसात को Meteor Shower कहते हैं।



Source link

Previous Article
Next Article

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *