भारतीय राष्ट्रपति से इतने गुना ज्यादा है अमेरिकी प्रेसिडेंट की सैलरी, मिलते हैं 17 तरह के भत्ते

Spread the love


वॉशिंगटन
अमेरिका में इन दिनों राष्ट्रपति चुनाव को लेकर राजनीतिक सरगर्मियां तेज हैं। सत्तारूढ़ रिपबल्किन पार्टी की तरफ से राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप दोबारा चुनावी मैदान में हैं। वहीं, विपक्षी डेमोक्रेटिक पार्टी की तरफ से पूर्व उपराष्ट्रपति जो बाइडेन उम्मीदवार बने हैं। दुनिया के सबसे शक्तिशाली देश के राष्ट्रपति का वेतन और भत्ते भी दुनिया में सबसे ज्यादा हैं। अमेरिकी राष्ट्रपति को हर साल 400000 डॉलर (2,94,19,440 रुपये) बतौर वेतन मिलता है जो भारतीय राष्ट्रपति के वेतन की तुलना में लगभग 5 गुना ज्यादा है।

17 तरह के मिलते हैं भत्ते
अमेरिकी राष्ट्रपति को वेतन के अलावा 17 तरह के अलग-अलग भत्ते भी दिए जाते हैं। उनको सालाना व्यय के रूप में 50000 डॉलर (3677430 रुपये), यात्रा व्यय के रूप में टैक्स रहित 100000 डॉलर (7354860 रुपये) और मनोरंजन भत्ते के तौर पर 19000 डॉलर (1397423 रुपये) भी दिया जाता है। इसके अलावा वर्तमान और पूर्व राष्ट्रपति को सुरक्षा और स्वास्थ्य बीमा, वॉर्डरोब बजट भी दिया जाता है।

राष्ट्रपति ट्रंप की सालाना आय के आगे छोटा है उनका वेतन
अमेरिकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप का सालाना वेतन उनकी बिजनेस से होने वाली पहले की आमदनी की तुलना में बहुत कम हैं। राष्ट्रपति बनने से पहले डोनाल्ड ट्रंप रियल स्टेट के व्यापार से जुड़े थे। उस दौरान उनकी सालाना आय 1.3 बिलियन डॉलर आंकी गई थी। जबकि इस समय उन्हें मात्र 4 लाख डॉलर ही मिलते हैं। यूएस टैक्स कोड के अनुसार राष्ट्रपति के वेतन को छोड़कर उनको दिए जाने वाले सभी भत्तों को टैक्स से छूट प्राप्त है।

अमेरिका: कैसे होता है दुनिया के सबसे शक्तिशाली देश के राष्ट्रपति का चुनाव, 5 अहम बातें

भारतीय राष्ट्रपति को मिलता है इतना वेतन
भारतीय राष्ट्रपति को देश की संचित निधि से हर महीने 5 लाख रुपये वेतन के रूप में मिलते हैं। इसके अलावा उन्हें कई तरह के अन्य भत्ते और सुविधाएं भी दी जाती हैं। 2016 में आखिरी बार भारतीय राष्ट्रपति के वेतन में बढ़ोत्तरी की गई थी। भारतीय राष्ट्रपति का आवास दुनिया में सबसे बड़ा है जो 5 एकड़ में फैला हुआ है। राष्ट्रपति भवन की देखरेख के लिए हर साल 30 करोड़ रुपये खर्च होते हैं।



Source link

Previous Article
Next Article

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *