भारतीय वायुसेना के जांबाजों ने 17,982 फीट की ऊंचाई पर की स्काई डाइव लैंडिंग, बनाया रेकॉर्ड

Spread the love


हाइलाइट्स:

  • भारतीय वायु सेना के दो जांबाजों ने लेह में ऊंचाई वाले स्थान से सी-130 जे विमान से स्काई डाइविंग की
  • विंग कमांडर गजानंद यादव और वारंट अफसर एके तिवारी ने वायुसेना के 88वें स्थापना दिवस पर लेह के खारदूंग्ला दर्रे में यह करतब किया
  • वायुसेना ने कहा कि यह स्काई डाइव कर सबसे अधिक ऊंचाई पर उतरने का नया रेकॉर्ड है, खारदूंग्ला दर्रा 17,982 फुट की ऊंचाई पर है

नई दिल्ली
भारतीय वायु सेना (IAF) के दो जांबाजों ने चुनौतीपूर्ण परिस्थितियों में लेह में ऊंचाई वाले स्थान से सी-130 जे विमान से स्काई डाइविंग की। वायुसेना ने एक बयान में बताया कि विंग कमांडर गजानंद यादव और वारंट अफसर एके तिवारी ने आठ अक्टूबर को वायुसेना के 88वें स्थापना दिवस पर लेह के खारदूंग्ला दर्रे में यह करतब किया था। वायुसेना ने कहा कि यह स्काई डाइव कर सबसे अधिक ऊंचाई पर उतरने का नया रेकॉर्ड है। खारदूंग्ला दर्रा 17,982 फुट की ऊंचाई पर है।

बयान में वायुसेना ने कहा क‍ि ऐसी ऊंचाई पर उतरना निम्न वायु घनत्व, निम्न ऑक्सीजन और दुर्गम पहाड़ी क्षेत्र के कारण अति चुनौतीपूर्ण है। दोनों वायु योद्धाओं ने प्रतिकूल परिस्थितियों पर काबू पाने में उत्कृष्ट व्यावसायिकता, धैर्य और दृढ़ संकल्प दिखाया है और भव्य सफलता प्राप्त की है। IAF ने कहा क‍ि भारतीय वायु सेना हमेशा अपने जवानों के लिए साहसिक गतिविधियों को बढ़ावा देती रही है, जिसका उद्देश्य यह है कि उनमें टीम भावना और शारीरिक और मानसिक साहस जैसे गुणों को शामिल किया जाए।

दुश्मन से प्रभावी तरीके से निपटेगी वायुसेना
वायुसेना प्रमुख आरके एस भदौरिया ने वायुसेना परेड में हिंडन एयरबेस पर गुरुवार को कहा था कि भारतीय वायुसेना ने अपने निश्चय और अभियानगत क्षमता का दृढ़ परिचय दिया है और जब भी जरूरत होगी, वह दुश्मन से प्रभावी तरीके से निपटेगी। उनका इशारा पूर्वी लद्दाख में वास्तविक नियंत्रण रेखा पर वायुसेना की त्वरित तैनाती और तैयारी की ओर था।



Source link

Previous Article
Next Article

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *