भारत को जंग के लिए उकसा रहा चीन, अक्साई चिन में हेलिकॉप्टर से किया लाइव फायर ड्रिल

Spread the love


पेइचिंग
लद्दाख में जारी तनाव को कम करने के लिए सैन्य और कूटनीतिक स्तर की बातचीत के बीच चीन अपनी हरकतों से बाज नहीं आ रहा है। मंगलवार को चीनी सेना ने अक्साई चिन में अपने एडवांस जे-10ए अटैक हेलिकॉप्टर से लाइव फायर ड्रिल किया। इस ड्रिल का वीडियो चीन की सरकारी मीडिया ने जारी किया है। जिसमें एक जे-10ए हेलिकॉप्टर अज्ञात हवाई टॉरगेट को एयर टू एयर मिसाइल फायर कर नष्ट करता नजर आ रहा है।

एयर टू एयर और एंटी टैंक मिसाइलों से लैस है यह हेलिकॉप्टर
वीडियो में आगे दिख रहा है कि इस हेलिकॉप्टर ने जमीन पर मौजूद टारगेट को नष्ट करने के लिए एंटी टैंक मिसाइल दागी। जिससे जमीनी टारगेट पूरी तरह नष्ट हो गया। वीडियो मे रूसी एमआई-17 की तरह दिखने वाले हेलिकॉप्टर भी नजर आ रहे हैं। जिसपर तैनात सैनिक मल्टी बैरल मशीनगन से जमीन पर फायर करता दिखाई देता है।

कैसा है चीन का जे-10 एक हेलिकॉप्टर
चीन के जे-10 ए अटैक हेलिकॉप्टर को चाइना एयरक्राफ्ट इंडस्ट्रियल ग्रुप और चाइना हेलीकॉप्टर रिसर्च एंड डेवलपमेंट इंस्टीट्यूट ने विकसित किया है। जबकि इस हेलिकॉप्टर का निर्माण चांगे एयरक्राफ्ट इंडस्ट्रीज कॉरपोरेशन ने किया है। जे-10 हेलिकॉप्टर को मुख्य रूप से दुश्मन के इलाके में घुसकर हमला करने के लिए विकसित किया गया है। जो एंटी टैंक और एयर टू एयर मिसाइलों से लैस है। इस हेलिकॉप्टर को चीन ने पहली बार 2003 में प्रदर्शित किया था।

इन हथियारों से लैस है जे-10 ए
इस हेलिकॉप्टर में गनर आगे की सीट पर जबकि पायलट पीछे की सीट पर बैठा रहता है। पायलट और गनर को बचाने के लिए हेलिकॉप्टर में बुलेट प्रूफ ऑर्मर का भी इस्तेमाल किया गया है। जिसमें बैठा गनर 20 एमएम या 30 एमएम की ऑटो कैनन गन से दुश्मनों पर फायर कर सकता है। इसमें आठ की संख्या में एजजे-10 एंटी टैंक गाइडेड मिसाइल और आठ टीवाई-19 एयर टू एयर मिसाइलें भी लगी होती हैं। इसके अलावा चार पीएल-5, पीएल-7 और पीएल-9 एयर टू एयर मिसाइलें भी तैनात होती हैं।



Source link

Previous Article
Next Article

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *