मंदिर की जमीन के लिए दबंगों ने पुजारी को पेट्रोल डालकर जिंदा जलाया, एक आरोपी गिरफ्तार

Spread the love


हाइलाइट्स:

  • दबंगों पर मंदिर पुजारी को जलाने का आरोप।
  • पुजारी की जयपुर के एसएमएस अस्पताल में इलाज के दौरान हुई मौत।
  • मंदिर माफी की जमीन का है विवाद।
  • जमीन विवाद को लेकर पुजारी के जलने की घटना का वीडियो हुआ वायरल।

भरतपुर। करौली में दो दिन पहले जमीन विवाद को लेकर एक मंदिर के पुजारी को पेट्रोल डालकर आग के हवाले कर दिया गया। इस वारदात में गंभीर रूप से जख्मी पुजारी को जयपुर के सवाई मानसिंह अस्पताल में भर्ती कराया गया, जहां गुरुवार रात को इलाज के दौरान उसकी मौत हो गई। इस वारदात को अंजाम देने वाले मुख्य आरोपी को कैलाश मीणा को करौली पुलिस ने गिरफ्तार कर लिया है।
‘आखिर गहलोत जी आप कब तक अपराधियों के मसीहा बनकर रहोगे?’ – पूनियां
यह पूरा घटनाक्रम करौली के सपोटरा थाना इलाके की ग्राम पंचायत बुकना का है। यहां मंदिर पर 50 वर्षीय बाबूलाल वैष्णव पूजा करता था और मंदिर माफी की जमीन पर भी उसी का कब्जा था। लेकिन इस जमीन को लेकर गांव के दबंग कैलाश मीणा की नजर थी। इसी जमीन पर कब्जा हथियाने के लिए आरोपी कैलाश मीणा ने पुजारी पर पेट्रोल डालकर आग लगा दी।

बीजेपी प्रदेशाध्यक्ष ने सीएम से कहा- ‘आखिर कब तक अपराधियों के मसीहा बनकर रहोगे?
करौली की इस घटना को लेकर बीजेपी प्रदेशाध्यक्ष सतीश पूनियां ने शुक्रवार को मुख्यमंत्री अशोक गहलोत के गृहनगर जोधपुर में ही उनको घेरा है। उन्होंने कहा है कि प्रदेश में अपराध बढ़ते जा रहे हैं। उन्होंने करौली में मंदिर के पुजारी को जिंदा जलाने की घटना का जिक्र करते हुए कहा, ‘अपराधियों में कानून का भय समाप्त हो चुका है। प्रदेश की जनता भयभीत है, डरी हुई है, सहमी हुई है, आखिर गहलोत जी आप कब तक अपराधियों के मसीहा बनकर रहोगे?’

पुजारी की मौत के बाद घर पर मचा कोहराम।

पूर्व सीएम वसुंधरा राजे ने कहा- जितना दुःख जताया जाए, कम
प्रदेश की पूर्व मुख्यमंत्री वसुंधरा राजे ने भी पुजारी की हत्या मामले में गहरा दुख जताया है। उन्होंने कहा है, ‘करौली जिले के सपोटरा में मंदिर के पुजारी को जिंदा जलाकर मौत के घाट उतार देने के मामले की जितनी निंदा की जाए, जितना दुःख जताया जाए, कम है।’

कांग्रेस विधायक और पूर्व मंत्री ने किया ट्वीट
कांग्रेस विधायक और पूर्व मंत्री रमेश मीणा ने इस घटना को लेकर शुक्रवार दोपहर को ट्वीट कर मंदिर के पुजारी बाबूलाल वैष्णव को जिंदा जलाने की घटना की निंदा की है। उन्होंने कहा है कि ऐसी घटनाएं सभ्य समाज के लिए सही नहीं। जिले के पुलिस अधिकारियों को निर्देशित किया गया है कि दोषियों के खिलाफ सख्त करवाई हो। मुख्य आरोपी पकड़ा जा चुका है, शेष आरोपियों को भी जल्द गिरफ्तार करने के निर्देश दिए हैं।

ये है पूरा मामला

इस घटना को लेकर सपोटरा थाना अधिकारी हरजी लाल यादव ने बताया कि ग्राम पंचायत बुकना के मंदिर पर 50 वर्षीय बाबूलाल वैष्णव पूजा करते थे जिसे लेकर गांव वालों ने उसे मंदिर माफी की जमीन बता रखी थी। कुछ दिन पूर्व पुजारी ने जमीन के ऊपर रिहाशी घर बनाने के लिए समतल कराई थी। इस जमीन पर दबंगों ने जबरदस्ती छप्पर डालने शुरू कर दिये। इसपर पुजारी ने गांव वालों को से शिकायत की। इसी बात को लेकर दबंगों ने जमीन पर पुजारी के सामना को पेट्रोल छिड़कर आग लगा दी। बीच बचाव में आये पुजारी पर भी पेट्रोल डाल दिया गया। इस हादसे में पुजारी बाबूलाल बुरी तरह घायल हो गया जिसे सपोटरा अस्पताल लाया गया, जहां से चिकित्सकों ने अधिक घायल होने के कारण करौली रेफर कर दिया। परिजन उसे करौली न ले जाकर जयपुर के सवाई मानसिंह अस्पताल लेकर पहुंचे।
Barmer news : 5 माह से दलित नाबालिग से दुष्कर्म मामले में नही हो रही कार्रवाई, पीड़ित ने अब आयोग से लगाई गुहार

जयपुर के एसएमएस अस्पताल की बर्न यूनिट में इलाज के दौरान गुरुवार को पुजारी की मौत हो गयी। उधर, जयपुर में फाइट फोर राइट, श्री परशुराम सेना आदि संगठनों के पदाधिकारी पुजारी पर हुए अत्याचार को लेकर अस्पताल पहुंचे। श्री परशुराम सेना के संयोजक अनिल चतुर्वेदी ने करौली एसपी मृदुल कछवाहा से आरोपियों की तुरंत गिरफ्तारी की मांग की। साथ ही यदि शीघ्र अपराधियों की गिरफ्तारी नहीं हुई तो आंदोलन की चेतावनी भी दी है।
राज्यपाल मिश्र और मुख्यमंत्री गहलोत ने पासवान के निधन पर जताया शोक

पुजारी को जिंदा जलाया

करौली में पुजारी को जिंदा जलाने की वारदात।



Source link

Previous Article
Next Article

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *