मणिपुर: घुटने पर बैठे बच्चों ने किया मुख्यमंत्री का स्वागत! लोगों ने पूछा- मुगल बादशाह हैं क्या?

Spread the love


हाइलाइट्स:

  • मणिपुर के मुख्यमंत्री एन बीरेन सिंह सोशल मीडिया पर निशाने पर
  • पर्सनल फेसबुक अकाउंट से शेयर की गई फोटो पर मचा बवाल
  • फोटो में उनका स्वागत करते बच्चे घुटने के बल सिर झुकाए बैठे हैं
  • सीएम ने लिखा, मैं ऐसी परंपरा और संस्कृति देखकर गौरवान्वित हूं

इम्फाल
मणिपुर (Manipur news) के मुख्यमंत्री एन. बीरेन सिंह (N. Biren Singh) एक तस्वीर को लेकर विवादों में घिर गए हैं। गुरुवार को वह ड्रग्स के खिलाफ एक कार्यक्रम में शिरकत करने पहुंचे थे। हालांकि ‘वॉर ऑन ड्रग्स’ नाम के इस कार्यक्रम की एक तस्वीर ने लोगों की त्योरियां चढ़ा दी हैं।

मुख्यमंत्री एन बीरेन सिंह ने गुरुवार को अपने पर्सनल फेसबुक अकाउंट से एक फोटो शेयर की जिसमें उनका स्वागत करने के लिए स्कूली बच्चे घुटने के बल सिर झुकाए बैठे हैं। मुख्यमंत्री ने लिखा, ‘मैं मणिपुरी लोगों की संस्कृति और परंपराएं देखकर गौरवान्वित हूं। क्या गजब का अनुशासन है।’

इस तस्वीर पर मचा है बवाल

‘थाइलैंड के राजा बन जाएं, हर चीज की एक सीमा होती है’
हालांकि लोगों को यह ‘रिवाज’ कुछ खास पसंद नहीं आया। लोगों ने इस तस्वीर पर कॉमेंट करते हुए लिखा कि अगर आपको ऐसे रिवाज निभाते लोगों को देखना है तो आप आदरपूर्वक थाइलैंड चले जाएं और वहां के राजा बन जाएं। हर चीज की एक सीमा होती है। आप रेड कार्पेट पर चल रहे हैं और बच्चे उससे दूर गंदी जगह में घुटने के बल सिर झुकाए बैठे हैं। शर्मनाक!

लोगों ने की अपील, ऐसे कल्चर को तुरंत खत्म करिए

एक अन्य यूजर ने लिखा कि क्या आपको सचमुच इन बच्चों को अपने आगे झुका हुआ देखकर अच्छा लग रहा है। आपको शायद ये कल्चर पसंद आए, मगर भगवान को इससे नफरत है। इस कल्चर को तुरंत खत्म करिए। ये बच्चे आपके सामने झुकने के लिए शायद इसलिए तैयार हुए होंगे क्योंकि उनमें अपने टीचर या मां-बाप को जवाब दे पाने की हिम्मत नहीं है, मगर आप समझदार हैं।

मामले पर मुख्यमंत्री ने साधी चुप्पी

हालांकि मुख्यमंत्री एन बीरेन सिंह के समर्थक उनका बचाव कर रहे हैं। उनके समर्थकों ने अब मुख्यमंत्री की ऐसी तस्वीरें शेयर की हैं जिनमें वह बुजुर्गों का सम्मान कर रहे हैं। पूरे विवाद पर अभी मुख्यमंत्री या उनके ऑफिस की ओर से कोई बयान नहीं आया है।



Source link

Previous Article
Next Article

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *