मुझे उम्मीद है कि भारत और चीन मौजूदा सीमा विवाद हल कर लेंगे: डोनाल्‍ड ट्रंप

Spread the love


वॉशिंगटन
अमेरिका के राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप ने गुरुवार को कहा कि उन्हें उम्मीद है कि भारत और चीन मौजूदा सीमा विवाद हल कर लेंगे। साथ ही उन्होंने एक बार फिर दोनों एशियाई देशों की मदद की पेशकश की। ट्रप ने वाइट हाउस में पत्रकारों से कहा, ‘मुझे पता है कि चीन और भारत मुश्किलों का सामना कर रहे हैं। मुझे उम्मीद है कि वे इससे निपट लेंगे।’

ट्रंप ने कहा, ‘अगर हम मदद कर सकते हैं , तो जरूर मदद करना चाहेंगे।’ राष्ट्रपति का यह बयान ऐसे समय में आया है जब कुछ दिन पहले ही भारत और चीन के वरिष्ठ सैन्य कमांडरों ने कई महीनों से लद्दाख में वास्तविक नियंत्रण रेखा (एलएसी) पर जारी गतिरोध को हल करने के लिए वार्ता की थी। इस बीच, समाचार पत्र ‘वॉल स्ट्रीट जर्नल’ ने अपनी एक खबर में कहा कि सीमा संघर्ष भारत को एक असंयमित प्रतिक्रिया के लिए उकसा रहा है।

अखबार ने कहा, ‘भारत नए जहाजों के निर्माण और तटीय निगरानी चौकियों का नेटवर्क बनाते हुए अमेरिका और उसके सहयोगियों के साथ संयुक्त नौसैनिक युद्धाभ्यास बढ़ा रहा है जो नई दिल्ली को हिंद महासागर के समुद्री यातायात पर नजर रखने में मदद करेगा।’ भारत और दक्षिण एशिया मामलों के अमेरिकी विशेषज्ञ एशले टेलिस ने कहा कि ट्रम्प प्रशासन ने इस संकट में भारत के समर्थन करने में बहुत पारदर्शी रुख अपनाया है।

इससे पहले अमेरिकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप ने कहा था, ‘यह बहुत मुश्किल स्थिति है। हम भारत से बात कर रहे हैं, हम चीन से बात कर रहे हैं। उनके बीच वहां बड़ी समस्या हो गई है। उनके बीच झड़प हो रही है। हम देखेंगे कि क्या कर सकते हैं। हम कोशिश करेंगे और उनकी मदद करेंगे।’ वहीं अमेरिकी विदेश मंत्री चीन की कम्‍युनिस्‍ट पार्टी पर तीखा हमला बोला था। उन्‍होंने कहा था कि कम्‍युनिस्‍ट पार्टी नाटो जैसे संस्‍थानों के जरिए बनाई गई स्‍वतंत्र दुनिया को फिर से पुराने ढर्रे पर ले जाना चाहती है। साथ ही नए नियम और मानक बनाना चाहती है जो पेइचिंग को शामिल करता है।



Source link

Previous Article
Next Article

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *