युवा खिलाड़ी अर्जुन और उसकी दादी ने राहुल गांधी को सिखाई देशभक्ति, कहा-आपकी सरकार को 15 मिनट नहीं 60 साल मिले थे

Spread the love


नई दिल्ली
कांग्रेस के पूर्व अध्यक्षराहुल गांधी पीएम नरेंद्र मोदी पर चीन समेत देश के कई अंदरूनी मामलों को लेकर लगातार हमला करते रहते हैं। हाल में उन्होंने एक रैली को संबोधित करते हुए कहा था कि अगर उनकी सरकार होती तो 15 मिनट में चीन के सैनिकों को खदेड़ देते। अब उनके इस बयान ने तूल पकड़ा लिया है। राहुल गांधी के इस बयान को लेकर देश में उनकी आलोचना हो रही है। उधर, एक 16 साल के युवा खिलाड़ी ने उन्हें सोशल मीडिया के जरिए समझाने के लिए सामने आया है। इस युवा खिलाड़ी का नाम अर्जुन भाटी है। इसने अपनी दादी के साथ मिलकर राहुल गांधी को संदेश दिया है।

अपनी वीडियो शेयर करते हुए अर्जुन ने लिखा, ‘आदरणीय राहुल गांधी जी कोशिश करता हूं कि आपका दिल से सम्मान करूं। लेकिन जब आपकी बात सुनता हूं तो दुख होता है, आप राजनीति करो सवाल करो सरकार की गलत बातों का विरोध करो ये सही है लेकिन आपको खुद ही नहीं पता आप नरेन्द्र मोदी जी की खिलाफ में देश के लिए भी ग़लत बोलते हो। ऐसा ना करो।’

वीडियो में अर्जुन सीधे राहुल गांधी से सवाल पूछते हैं। वह कहते हैं, कल मैंने एक वीडियो देखी जिसमें आपने देश, देश की सेना और आदरणीय प्रधानमंत्री जी के बारे में गलत शब्दों का प्रयोग किया।’ अर्जुन ने कहा, ‘मुझे भी दुख होता है कि पूरा देश आपकी बातों और भाषणों पर आपका मजाक उड़ाता है, आपके जोक्स बनाता है और आपको ट्रोल करता है। और इसका कारण भी है, क्योंकि देश देश की सेना की तौहीन करते हैं, उसका मनोबल तोड़ते हैं और आप ये भी कहते हैं कि अगर आपकी सरकार को 15 मिनट मिल जाते तो आप चाइना को उखाड़ कर फेंक देते। आप उनको पीछे हटा देते।

जूनियर गोल्फर अर्जुन भाटी ने अपनी 102 ट्रोफी और टूर्नमेंटों से कमाई कर दी डोनेट

अर्जुन वीडियो में राहुल से सवाल करते हैं, ‘आपकी सरकार को तो 60 साल मिले थे फिर आखिर 15 मिनट की ही क्या कमी रह गई? आप हमारी देश की सेना को सबसे कमजोर समझते हैं। सबसे कायर समझते हैं और आप चाइना की तारीफ करते हैं। आप कैसे देशभक्त हैं? आप अपने आपको भारत माँ का सच्चा बेटा कैसे कह सकते हैं? अगर आप रिसर्च करेंगे, तो आपको पता चलेगा कि हमारे देश की सेना सबसे बहादुर है। भारत बहादुर है, था और रहेगा। बेशक मैं अभी 16 साल का हूँ, बेशक मैं छोटा हूँ। लेकिन अगर कोई मेरे देश की तौहीन करेगा, कोई मेरे परिवार के बारे में कुछ बोलेगा तो मैं चुप नहीं बैठूंगा। ऐसा कभी नहीं होता कि कोई कभी किसी के बारे में गलत बोले और वो उसे बड़े होने का इंतजार करे।’

दादी ने भी सुनाई खरी खोटी
अर्जुन बताते हैं कि उनके दादाजी फौज में थे और उन्होंने जब अपनी दादी को वीडियो दिखाई तो उन्हें भी बहुत गुस्सा आया और उन्हें भी बहुत दुख हुआ। अर्जुन की दादी इस वीडियो में कहती हैं, ‘राहुल गांधी देश के लिए बहुत उल्टी सीधी बातें करते हैं। फौजियों को भी कहते हैं। उन्हें यह सब नहीं करना चाहिए। फौजी अपनी जान की बाजी लगाते हैं। अपने बच्चों को छोड़कर सीमा पर रहते हैं। देशभक्ति ऐसे नहीं होती है। आप उल्टी सीधी बात करते हो।’बता दें कि अर्जुन की वीडियो को सोशल मीडिया पर खूब शेयर किया जा रहा है। देखने वाले उनकी तारीफ और राहुल गांधी की आलोचना करते नहीं थक रहे।

भारत के जूनियर गोल्फर अर्जुन भाटी (Arjun Bhati) ने कोरोना वायरस (Coronavirus) के खिलाफ लड़ाई में खुले दिल से योगदान दिया है. नोएडा के निवासी अर्जुन ने ट्रॉफी बेचकर और अपनी कुल कमाई को मिलाकर 4,30,000 रुपये जुटाए हैं, ये रकम उन्होंने पीएम केयर्स फंड में दान कर दी है. अर्जुन ने अपने ट्वविटर पर पीएम मोदी को टैग करते हुए लिखा है कि , “8 साल में जो देश,विदेश से जीतकर कमाई हुई 102 ट्रॉफी देश संकट के समय मैंने 102 लोगों को दे दी, उनसे आए हुए कुल-4,30,000 रुपये आज पीएम-केयर्स फंड में देश की मदद को दिए, ये सुनकर दादी रोई फिर बोली तू सच में अर्जुन है, आज देश के लोग बचने चाहिए ट्रोफ़ी तोफिर आ जाएंगी.”

ऐसे आए सुर्खियों में
कोविड-19 महामारी के कारण देश में लगे लॉकडाउन के दौरान युवा गोल्फ खिलाड़ी अर्जुन भाटी ने भी मदद के हाथ बढ़ाए थे। नोएडा के रहने वाले गोल्फर अर्जुन ने अपनी ट्रोफी और कमाई 102 लोगों को दे दी थीं। अर्जुन ने ट्वीट कर कहा था’जो देश-विदेश से जीतकर कमाई हुई 102 ट्रोफी संकट के समय मैंने 102 लोगों को दे दीं। उनसे आए हुए कुल 4,30,000 रुपये पीएम-केयर्स फंड में देश की मदद को दिए। यह सुनकर दादी रोईं, फिर बोलीं कि तुम सच में अर्जुन हो। आज देश के लोग बचने चाहिएं, ट्रोफी तो फिर आ जाएंगी।’ उन्होंने पीएम मोदी को भी टैग किया था। पीएम मोदी ने भी इसकी सराहना की थी।



Source link

Previous Article
Next Article

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *