यूपी में फिल्म सिटी: बड़े कांटे है सीएम योगी आदित्यनाथ की राह में!

Spread the love


हाइलाइट्स:

  • यूपी के सीएम योगी आदित्यनाथ ने की है यूपी में फिल्म सिटी बनाने की घोषणा
  • इसी सिलसिले में वह मुंबई में फिल्म और उद्योग जगत के लोगों से मिले
  • हालांकि, उनके इस प्रयास का महाराष्ट्र में हो रहा है जोरदार विरोध

नई दिल्ली
यूपी के सीएम योगी आदित्यनाथ (CM Yogi Adityanath) के मुंबई दौरे ने दोनों राज्यों की राजनीति में भूचाल ला दिया है। महाराष्ट्र के सीएम उद्धव ठाकरे जहां योगी को चुनौती दे रहे हैं वहीं, फिल्म उद्योग के नामचीन ऐक्टर यूपी के सीएम से मुलाकात कर रहे हैं। दरअसल, ग्रेटर नोएडा में फिल्म सिटी निर्माण की घोषणा के बाद वहां इनवेस्टर से बैठक करने गए हैं। अब ऐसे में सवाल उठता है कि सालों तक बॉलीवुड के नाम से जाने जाने वाला मुंबई से फिल्म उद्योग को यूपी लाने में योगी कामयाब हो पाएंगे। आइए जानते हैं योगी के मिशन में है क्या चुनौतियां..

पहले भी हुई थी यूपी में फिल्म सिटी बनाने की कोशिश

बता दें कि उत्तर प्रदेश में पहले भी फिल्म सिटी का ऐलान हो चुका है लेकिन वो योजनाएं परवान नहीं चढ़ पाईं। फिल्म सिटी के लिए जमीन का बंटवारा तो हो गया लेकिन फिल्म सिटी नहीं बस पाई। इसबार योगी आदित्यनाथ ने पूरी तैयारी के साथ घोषणा तो की है लेकिन राह में रुकावटें भी कम नहीं है। मंगलवार को इंडियन मर्चेंट चेम्बर्स ऑफ कॉमर्स की बैठक में सीएम ठाकरे ने कहा था कि महाराष्ट्र मैग्नेटिक राज्य है और उद्योगपतियों में आज भी इस राज्य का आकर्षण है। यहां से कोई उद्योग बाहर नहीं जाएगा।

BSE में सीएम आदित्यनाथ

क्या फिल्म सिटी यूपी आ सकता है?
सबसे बड़ा सवाल है कि क्या योगी आदित्यनाथ फिल्म सिटी को ग्रेटर नोएडा ला सकते हैं। वह फिल्म अभिनेता अक्षय कुमार, कैलाश खेर समेत कई नामचीन हस्तियों से मिल चुके हैं। इसके अलावा वह उद्योगपतियों से भी मुलाकात कर रहे हैं। उन्होंने आज टाटा ग्रुप के चेयरमैन नटराजन चंद्रशेखरन से मुलाकात की। माना जा रहा है कि वह राज्य में खुलने वाले फिल्म सिटी के लिए निवेश का आग्रह कर रहे हैं। रही बात यूपी में फिल्म सिटी लाने की तो इसके लिए यहां आधारभूत सुविधाओं का विकास करना पड़ेगा और फिलहाल यहां इसकी कमी है। फिल्म उद्योग के लोगों को सुविधाओं के अलावा अन्य छूट की भी उम्मीद होगी ऐसे में सवाल उठता है कि राज्य सरकार किस हद तक इन चीजों का प्रबंध कर पाती है।

आर्थिक राजधानी बनाम यूपी
मुंबई देश की आर्थिक राजधानी है ऐसे में वहां आधारभूत ढांचा से लेकर तमाम चीजें बेहतर दर्जे की हैं। यूपी के ग्रेटर नोएडा में प्रस्तावित फिल्म सिटी को देश की आर्थिक राजधानी की सुविधाओं से टक्कर लेना होगा। महाराष्ट्र के सीएम ठाकरे ने कहा कि कंपटीशन अच्छी बात बात है लेकिन कोई धमकी देकर ऐसा करेगा तो यह नहीं हो पाएगा। उन्होंने यूपी के सीएम का बिना नाम लिए कहा कि दम है तो यहां के उद्योग बाहर लेकर जाएं।

क्या बड़े अभिनेता यूपी का करेंगे रुख?
सबसे बड़ा सवाल ये है कि मुंबई को अपना स्थायी बसेरा बना चुके बड़े-बड़े फिल्म अभिनेता शूटिंग के लिए यूपी का रुख करेंगे? इसका जवाब मिलना बाकी है। हालांकि, ऐसे नहीं है कि यूपी में बड़े अभिनेता शूटिंग नहीं कर रहे हैं लेकिन ऐसा लगातार नहीं हो रहा है। ऐसे में एक समय यूपी के ब्रैंड अंबेसडर रहे चुके अमिताभ बच्चन, सलमान खान, शाहरुख खान, आमिर खान जैसे अभिनेताओं का रुख अभी पता नहीं चल पाया है। यानी योगी आदित्यनाथ को अभी कई बाधाओं को पार पाना होगा।



Source link

Previous Article
Next Article

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *