योगी सरकार में मंत्री चेतन चौहान की किडनी फेल, लाइफ सपोर्ट सिस्टम पर हैं पूर्व क्रिकेटर

Spread the love


पवन सिंह, लखनऊ: पूर्व क्रिकेटर और यूपी सरकार के मंत्री चेतन चौहान की हालत गंभीर है. कोरोना वायरस से संक्रमित उत्तर प्रदेश के होमगार्ड मंत्री चेतन चौहान को अब गुरुग्राम के मेदांता अस्पताल में भर्ती करवाया गया है. उनकी किडनी फेल हो गई है. फिलहाल उनको लाइफ सपोर्ट सिस्टम पर रखा गया है और हालत नाजुक बनी हुई है. 19 जुलाई को चेतन चौहान की कोरोना रिपोर्ट पॉजिटिव आई थी जिसके बाद उन्हें एसपीजीआई में एडमिट कराया गया था.चौहान को कोरोना से तो मुक्ति मिली लेकिन किडनी और ब्लड प्रेशर की समस्याएं शुरू हो गईं. 

बाद में जब उनकी सेहत में सुधार नहीं हुआ तो उन्हें मेदांता, गुरुग्राम ले जाया गया. 72 साल के चेतन चौहान दो बार बीजेपी के लोकसभा सांसद रह चुके हैं. पिछले साल तक वह योगी कैबिनेट में खेल मंत्री थे. वर्तमान में चौहान उत्तर प्रदेश मंत्रिमंडल में सैनिक कल्याण, होमगार्ड, पीआरडी और नागरिक सुरक्षा मंत्रालय की कमान संभाल रहे हैं.  चेतन चौहान अमरोहा जिले की नौगांवा विधानसभा के विधायक हैं.

बता दें कि हाल ही में यूपी के कानून मंत्री ब्रजेश पाठक भी कोरोना पॉजिटिव पाए गए हैं. पिछले दिनों ही योगी सरकार में प्राविधिक शिक्षा मंत्री रहीं कमल रानी वरुण का 2 अगस्त को निधन हो गया था. उन्हें भी कोरोना पॉजिटिव पाए जाने के बाद एसजीपीजीआई अस्पताल में भर्ती कराया गया था. 

इनके अलावा यूपी कैबिनेट से खेल मंत्री उपेंद्र तिवारी, जेल मंत्री जय प्रताप सिंह, राजेंद्र प्रताप सिंह, धर्म सिंह सैनी, कैबिनेट मंत्री मोती सिंह और महेंद्र सिंह कोरोना संक्रमित हो चुके हैं. हालांकि अब ये नेता ठीक होकर अपने घर लौट चुके हैं. इसके अलावा बीजेपी के प्रदेश अध्यक्ष स्वतंत्र देव सिंह भी पिछले हफ्ते कोरोना पॉजिटिव थे.

गावसकर के साथ चेतन चौहान की फेमस जोड़ी
चेतन चौहान ने साल 1969  से 1981 के दौरान 40 टेस्ट और 7 वनडे में टीम इंडिया का रिप्रेजेंट किया. उनकी सुनील गावसकर के साथ ओपनिंग जोड़ी बहुत पॉपुलर थी. गावसकर जहां एक छोर से टिक रहते थे वहीं, चेतन उनके जिम्मेदार साझीदार की भूमिका निभाते थे. चौहान के नाम टेस्ट क्रिकेट में अनूठा रिकॉर्ड है. वे पहले क्रिकेटर हैं जिन्होंने बिना किसी शतक के टेस्ट क्रिकेट में 2 हजार से ज्यादा रन बनाए हैं. हालांकि बाद में शेन वॉर्न ने 3 हजार से भी ज्यादा रन बिना शतक के बनाकर इस रिकॉर्ड पर कब्जा कर लिया.

राजनीति के पिच पर भी सफल
क्रिकेट से संन्यास लेने के बाद चेतन ने पहले दिल्ली क्रिकेट की राजनीति में कदम रखा. दिल्ली क्रिकेट एसोसिएशन के अध्यक्ष से लेकर कई भूमिकाओं में काम किया. साल 2007 के दौरान भारत के ऑस्ट्रेलिया टूर पर हरभजन सिंह और एंड्र्यू साइमंड्स के बीच हुई फेमस ‘मंकीगेट’ कांड के दौरान चौहान ही भारतीय टीम के मैनेजर थे. चौहान ने बाद में राजनीति के मैदान पर कदम रखा और दो बार अमरोहा से सांसद बने. फिर राज्य की राजनीति में उतर गए. फिलहाल चौहान योगी सरकार में होमगार्ड मंत्री हैं.

ये भी देखें-





Source link

Previous Article
Next Article

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *