राहुल गांधी ने राफेल मामले में सरकार पर किया हमला तो बीजेपी बोली, 2024 में इसी मुद्दे पर चुनाव लड़ ले कांग्रेस

Spread the love


हाइलाइट्स:

  • राफेल विमान सौदे को लेकर राहुल गांधी ने किया सरकार पर हमला
  • बीजेपी ने भी कांग्रेस पर किया पलटवार, कहा- लड़ लो चुनाव
  • राफेल सौदे में भारतीय खजाने से पैसे की चोरी हुई- राहुल गांधी

नई दिल्ली
कांग्रेस के पूर्व अध्यक्ष राहुल गांधी (Rahul Gandhi) सरकार को घेरने का कोई मौका नहीं छोड़ रहे हैं। पिछले कुछ महीनों से राहुल केंद्र सरकार पर लगातार हमलावर रहे हैं। राहुल गांधी (Rahul Gandhi On Rafale) ने अब ने राफेल विमान सौदे (Rafale) को लेकर शनिवार को सरकार पर नए सिरे से निशाना साधा है। राहुल गांधी ने हमारे सहयोगी टाइम्स ऑफ इंडिया की खबर पोस्ट करते हुए लिखा है कि राफेल सौदे में भारतीय खजाने से पैसे की चोरी हुई। इस मामले में केंद्रीय मंत्री पीयूष गोयल ने तुरंत पलटवार भी किया है।

टीओआई की रिपोर्ट
राहुल गांधी के आरोपी पर पीयूष गोयल (Piyush Goyal) ने कहा कि 2024 का लोकसभा चुनाव इस मुद्दे पर लड़ने का लिए राहुल आमंत्रित हैं। दरअसल, राहुल गांधी ने टाइम्स ऑफ इंडिया की एक खबर का हवाला देते हुए ट्वीट किया, ‘राफेल (सौदे) में भारतीय खजाने से पैसे की चोरी हुई।’ कांग्रेस नेता ने महात्मा गांधी के एक कथन का हवाला देते हुए कहा, ‘सत्य एक है, रास्ते अनेक हैं।

राहुल गांधी को जवाब
राहुल गांधी पर पलटवार करते हुए रेल मंत्री गोयल ने ट्वीट किया, ‘राहुल गांधी के कई सहयोगी निजी तौर पर यह बताते हैं कि अपने पिता के पापों को धोने के लिए राफेल (Rahul Gandhi On Rafale) को लेकर राहुल की जो सनक है, उससे पार्टी को नुकसान हो रहा है। परंतु अगर कोई अपने ही विध्वंस का इंतजार कर रहा है तो शिकायत करने वाले हम कौन होते हैं?’

2024 के लिए ललकारा
उन्होंने कहा, ‘हम राहुल गांधी को 2024 का चुनाव राफेल के मुद्दे पर लड़ने के लिए आमंत्रित करते हैं।’ गौरतलब है कि पिछले लोकसभा चुनाव में राहुल गांधी ने राफेल विमान सौदे को मुख्य मुद्दा बनाया था और इसको लेकर नरेंद्र मोदी पर तीखा हमला बोला था। उस चुनाव में कांग्रेस को हार का सामना करना पड़ा था।

क्या है कैग का मामला
नियंत्रक एवं महालेखा परीक्षक (सीएजी) द्वारा रक्षा ऑफसेट कॉन्ट्रैक्ट्स की परफॉर्मेंस रिपोर्ट सरकार को सौंपे जाने के आठ महीने बाद संघीय ऑडिटर के शीर्ष सूत्र ने खुलासा किया है कि इस रिपोर्ट में रफाल विमान के ऑफसेट सौदे का कोई उल्लेख नहीं है। टाइम्स ऑफ इंडिया के अनुसार, सरकार को अभी यह रिपोर्ट संसद में पेश करनी है। रक्षा मंत्रालय ने ऑडिटर से रफाल ऑफसेट से संबंधित कोई जानकारी होने से इनकार किया है।

तीन साल के बाद होगी जानकारी
ऑडिट से जुड़े लोगों ने कहा है कि रक्षा मंत्रालय ने सीएजी से कहा है कि रफाल की फ्रांसीसी निर्माण कंपनी दासो एविएशन ने कहा है कि केवल तीन साल के बाद ही वह अपने ऑफसेट पार्टनर्स के कान्ट्रैक्ट्स की कोई जानकारी साझा करेगी। इसी रिपोर्ट को पोस्ट करते हुए राहुल गांधी ने सरकार पर हमला बोला है।



Source link

Previous Article
Next Article

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *