राहुल रॉय को फिल्‍म ऑफर करने से डरने लगे थे प्रड्यूसर्स, 10 फिल्‍में बनकर भी नहीं बनीं

Spread the love


‘आशिकी’ फेम और टीवी की दुनिया के पहले ‘बिग बॉस’ राहुल रॉय अस्‍पताल में भर्ती हैं। फिल्म ‘LAC-Live The Battle’ की शूटिंग के दौरान कारगिल में उन्‍हें ब्रेन स्ट्रोक आया, जिसके बाद उन्‍हें नानावती अस्‍पताल में भर्ती किया गया है। उनकी सर्जरी होगी। राहुल Aphasia के श‍िकार हुए हैं, जिस कारण बोलने, लिखने और समझने की क्षमता प्रभावित होती है। राहुल रॉय ने 1990 में आश‍िकी फिल्‍म से डेब्‍यू किया था। इस फिल्‍म ने उन्‍हें रातों-रात स्‍टार बना दिया। ऐसा लगा जैसे इंडस्‍ट्री को उसका नया सुपरस्‍टार मिल गया। लेकिन किस्‍मत ने साथ नहीं दिया। राहुल इसके बाद करियर में लगातार स्‍ट्रगल करते रहें। फिल्‍में तो इसके बाद भी कई रिलीज हुईं, लेकिन इनमें से कुछ फ्लॉप हुईं तो कुछ बेअसर। दिलचस्‍प है कि शुरुआती करियर में ही उनकी 10 फिल्‍में डिब्‍बाबंद हो गईं। यानी ये फिल्‍में बनी ही नहीं।

‘जुनून’ में अपनी ऐक्‍ट‍िंग से बनाया दीवाना

‘आश‍िकी’ की अपार सफलता के बाद राहुल रॉय को बहुत सी रोमांटिक फिल्‍में ऑफर हुईं। ‘मझधार’, ‘दिलवाले कभी ना हारे’, ‘प्‍यार का साया’ और ‘जानम’ कुछ ऐसी फिल्‍में रहीं, जिसे दर्शकों ने पसंद किया। ‘जुनून’ फिल्‍म में उनकी परफॉर्मेंस को सबसे ज्‍यादा पसंद किया गया। लेकिन इसके बाद उनका करियर ढलान पर आ गया। इसकी एक बड़ी वजह यह रही कि उन्‍हें ऑफर हुईं कम से कम 10 फिल्‍में डिब्‍बाबंद हो गईं। कभी फिल्‍ममेकर के निधन की वजह से तो कभी कुछ और। इंडस्‍ट्री के लोग बताते हैं कि हालात ऐसे भी हो गए थे कि लोग प्रड्यूसर-डायरेक्‍टर राहुल रॉय को फिल्‍म ऑफर करने से पहले डरने लगे थे।

दिलों का रिश्‍ता

साल 1992 में जब ‘जुनून’ रिलीज हुई तो राहुल रॉय की ऐक्‍ट‍िंग ने सबको दंग कर दिया। ‘आश‍िकी’ का ताज पहले ही उनके सिर पर था। ऐसे में एकसाथ कई सारी फिल्‍में ऑफर हुईं। के. बालाचंदर ने भी राहुल रॉय को ‘दिलों का रिश्‍ता’ ऑफर की। लेकिन इससे पहले कि यह फिल्‍म फ्लोर पर आती और शूटिंग शुरू होती। इसके प्रड्यूसर आर.सी. प्रकाश का निधन हो गया। इस कारण फिल्‍म शेल्‍व्‍ड यानी डिब्‍बाबंद हो गई।

अयुद्ध

बड़े जोर-शोर से डायरेक्‍टर-प्रड्यूसर्स ने राहुल रॉय के साथ ‘अयुद्ध’ फिल्‍म की घोषणा की थी। यह राहुल रॉय के लिए बड़ा प्रोजेक्‍ट माना जा रहा था। लेकिन इस फिल्‍म के डायरेक्‍टर का भी असामयिक निधन हो गया।

‘प्रेमाभ‍िषेक’ और ‘तूने मेरा दिल ले लिया’

राहुल रॉय के करियर में ‘प्रेमाभ‍िषेक’ और ‘तूने मेरा दिल ले लिया’ मील का पत्‍थर साबित हो सकती थीं। इनमे ‘तूने मेरा दिल ले लिया’ में राहुल रॉय के अपोजिट रवीना टंडन को कास्‍ट किया गया था। लेकिन ये फिल्‍में भी पूरी नहीं हो पाईं।

‘दिल दिया चोरी चोरी’ और ‘फिर कभी’

एन.आर. पचीसिया ने राहुल रॉय के साथ ‘दिल दिया चोरी चोरी’ फिल्‍म की घोषणा की। इस फिल्‍म में उनके अपोजिट करिश्‍मा कपूर को कास्‍ट किया गया। इसके अलावा बलवंत दुल्‍लत ने ‘फिर कभी’ फिल्‍म की अनाउंसमेंट की। लेकिन ये फिल्‍में भी कभी नहीं बनीं।

‘जब जब दिल मिले’ और ‘ख‍िलौना’

राहुल रॉय की किस्‍मत बार-बार दगा दे रही थी। फिल्‍में ऑफर हो रही थीं, लेकिन कोई भी फिल्‍म पूरी नहीं हो रही थी। ऐसी ही एक मल्‍टीस्‍टारर फिल्‍म थी ‘जब जब दिल मिले।’ इस फिल्‍म में राहुल रॉय के साथ करिश्‍मा कपूर और नगमा को कास्‍ट किया गया था। जबकि महेश भट्ट ने भी ‘ख‍िलौना’ फिल्‍म बनाने की घोषणा की। यह हॉलिवुड की ‘रीवेंज’ का रीमेक था।

महेश भट्ट की ‘कलयुग’ और हैरी बावेजा की ‘वज्र’

महेश भट्ट राहुल रॉय के साथ ‘आश‍िकी’ की सफलता दोहराना चाहते थे। तय हुआ कि एक और म्‍यूजिक फिल्‍म बनाई जाएगी। नाम तय हुआ ‘कलयुग’, लेकिन यह फिल्‍म भी नहीं बन पाई। इसके अलावा हैरी बावेजा जैसे बड़े नाम भी ‘वज्र’ फिल्‍म की घोषणा की। इस फिल्‍म में राहुल रॉय के साथ रवीना टंडन और श‍िल्‍पा श‍िरोडकर को कास्‍ट किया गया था। लेकिन अंजाम वही हुआ। फिल्‍म डिब्‍बाबंद हो गई।

साल 2005 में की वापसी, 2006 में जीता ‘बिग बॉस’

-2005-2006-

राहुल रॉय ने इसके बाद साल 2005 में ‘मेरी आश‍िकी’ से वापसी की। वह लीड रोल में नजर आए। जबकि 2006 में उन्‍होंने ‘बिग बॉस’ के पहले सीजन में हिस्‍सा लिया। वह शो के विनर भी रहे। लाइमलाइट तो खूब मिली, लेकिन ऐक्‍ट‍िंग करियर ने इसके बाद भी रफ्तार नहीं पकड़ी।



Source link

Previous Article
Next Article

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *