लंदन में सड़क पर फैले 29,000 किग्रा गाजर की तस्वीरें वायरल, लोगों ने पूछा- यहां क्यों डंप किया?

Spread the love


लंदन
लंदन में इन दिनों सड़क पर फैले 29,000 किग्रा गाजर की तस्वीर चर्चा का विषय बनी हुई है। लोग सोशल मीडिया में एक दूसरे से पूछ रहे हैं कि आखिर इतनी बड़ी मात्रा में इन गाजरों को सड़क पर क्यों फेंका गया है? गाजर के ढेर की वायरल तस्वीरें दक्षिण लंदन के गोल्डस्मिथ्स कॉलेज के बाहर की हैं। दावा किया जा रहा है कि एक ट्रक ने इतनी बड़ी संख्या में गाजरों को कॉलेज कैंपस के बाहर सड़क पर डाला था।

कॉलेज ने रहस्य से उठाया पर्दा
सोशल मीडिया में पूछे जा रहे सवालों पर गोल्डस्मिथ्स कॉलेज ने कुछ देर बाद अपनी चुप्पी तोड़ते हुए पूरे वाकये का खुलासा किया। कॉलेज ने कहा कि ये गाजर एक छात्र के ऑर्ट इंस्टॉलेशन के पार्ट थे। यह एक इंस्टॉलेशन है जिसे ग्राउंडिंग कहा जाता है। इसे कलाकार और एमएफए छात्र राफेल पेरेज इवांस ने बनाया है। कॉलेज ने यह भी बताया कि यह इंस्टॉलेशन गोल्डस्मिथ्स के एमएफए डिग्री शो का हिस्सा है।

कलाकार ने बताया क्यों किया गाजरों का उपयोग
कलाकार राफेल पेरेज इवांस ने बताया कि ये गाजर खाने योग्य नहीं थे। इनमें से अधिकतर टुकड़ों में कटे हुए थे। इन गाजरों को प्रदर्शनी के बाद हटा दिया जाएगा और पालतू जानवरों को चारे के लिए दे दिया जाएगा। उनकी कलाकृति गांव और शहरों के बीच जारी तनाव को प्रदर्शित करती है। जिसमें यूरोपीय किसान फसल का उचित मूल्य न मिल पाने के कारण शहर के बीचोंबीच अपने फसल को डंप कर विरोध जता रहे हैं।

अब भी वहीं मौजूद है गाजरों का ढेर
स्काई न्यूज की रिपोर्ट के अनुसार, मंगलवार को इस इस्ंटॉलेशन के खत्म होने के बाद भी गाजर को पशुओं को खाने के लिए नहीं भेजा गया है। उन गाजरों के ढेर पर चढ़कर छात्र फोटो खिंचवा रहे हैं। कई छात्र तो उनमें से गाजरों को उठाकर अपने घर खाने के लिए लेकर जा रहे हैं।

सोशल मीडिया पर बंटे लोग
उनके इस इंस्टॉलेशन को लेकर सोशल मीडिया पर अलग-अलग टिप्पणियां देखने को मिली। कई लोगों ने इसे खाने का अपव्यय तक बताया। एक यूजर ने लिखा कि अगर उन्हें जमीन पर नहीं गिराया गया होता, तो इसे उन संगठनों को दिया जा सकता था जो भूखों को खाना खिलाते हैं। वहीं, कई लोगों ने कहा कि उन्होंने अपनी कला के माध्यम से किसानों की समस्याओं को प्रदर्शित किया है।



Source link

Previous Article
Next Article

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *