श्रीराम एयरपोर्ट: किसानों का ‘जनेऊ’ संकल्प- ‘न्याय न मिला तो योगी सरकार को उखाड़ फेंकेंगे’

Spread the love


अयोध्या
श्रीराम एयरपोर्ट के जमीन अधिग्रहण का मामला सुलझने के बजाए उलझता जा रहा है। जमीन अधिग्रहण के बदले मुआवजे की राशि से किसान संतुष्ट नहीं हैं। अब धर्मपुर गांव के कई किसानों ने योगी सरकार से नाराजगी का इजहार किया है। किसानों ने सरयू में खड़े होकर संकल्प लिया कि आगामी चुनाव में किसान बीजेपी को वोट नही करेंगे। इस दौरान जनेऊ पकड़कर बीजेपी को उखाड़ फेंकने की शपथ ली गई।

योगी सरकार के ड्रीम प्रॉजेक्ट मर्यादा पुरुषोत्तम श्रीराम एयरपोर्ट के निर्माण को लेकर किसानों और जिला प्रशासन के बीच तकरार बढ़ती जा रही है। एयरपोर्ट के लिए अधिग्रहण की जाने वाली जमीन के बदले मिले मुआवजे की दर अलग-अलग होने से किसान नाराज हैं। धर्मपुर गांव के किसान लगातार विरोध की आवाजें उठा रहे हैं। इस वजह से अब तक भूमि अधिग्रहण की प्रक्रिया गतिरोध झेल रही है।

किसानों का आरोप- नहीं मिल रहा उचित मुआवजा
किसानों का आरोप है कि उन्हें पड़ोस के गांव नंदापुर और जनौरा से बेहद कम कीमत दी जा रही है, जो उन्हें स्वीकार नहीं है। सोमवार को आंदोलनरत किसानों ने सरयू नदी में स्नान करने के बाद जनेऊ हाथ में लेकर योगी सरकार को अगले चुनाव में हटाने की सौगंध ली है। किसानों के विरोध की अगुआई कर रहे धर्मपुर के किसान रामलौट तिवारी ने योगी सरकार को निशाने पर लिया।

रामलौट तिवारी ने कहा, ‘आज हम लोगों ने सरयू में जाकर स्नान किया और स्नान करके जनेऊ की कसम खाया कि अगर उचित न्याय ना मिला तो मैं योगी सरकार को उखाड़ फेंकूंगा।’ उन्होंने कहा कि पिछले चुनाव में उनके गांव के लोगों ने उत्तर प्रदेश में मुख्यमंत्री पद के लिए योगी आदित्यनाथ का चुनाव यह सोचकर किया था कि योगी सरकार में किसानों का नौजवानों का भला होगा। लेकिन ऐसा नहीं हुआ और लगातार किसानों का उत्पीड़न हो रहा है।

किसानों का कहना है कि धर्मपुर में जबरिया किसानों की जमीन छीनी जा रही है, उन्हें उचित मुआवजा नहीं दिया जा रहा है। इसके विरोध में आज हम लोगों ने प्रतिज्ञा ली है और आने वाले चुनाव में हम उत्तर प्रदेश में योगी सरकार को वोट नहीं करेंगे।



Source link

Previous Article
Next Article

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *