समुद्र में तनाव के बीच DF-31A मिसाइल को टेस्ट कर रहा चीन, अमेरिका तक कर सकती है मार

Spread the love


पेइचिंग
साउथ चाइना सी में मचे घमासान के बीच चीन गुपचुप तरीके से अपनी परमाणु हमला करने वाली मिसाइल को टेस्ट कर रहा है। चीनी मीडिया में जारी एक रिपोर्ट में कहा गया है कि चीन की न्यूक्लियर फोर्स इन दिनों एक अज्ञात स्थान पर DF-31A (डांगफेंग 31) परमाणु मिसाइल के साथ युद्धाभ्यास कर रही है। यह मिसाइल चीन से सीधे अमेरिका तक मार करने में सक्षम है। इस समय ताइवान को घातक हथियार देने को लेकर अमेरिका और चीन में तनाव चरम पर है।

अमेरिका को सीधी चेतावनी दे रहा चीन
चीन की यह मिसाइल टेस्टिंग साइट साउथ चाइना सी से लगे जेजियांग प्राविंस के हयान में स्थित है। यहां चीन की रॉकेट फोर्स और न्यूक्लियर फोर्स मिलकर हमले की तैयारियों को परख रही है। माना जा रहा है कि चीन की इस तैयारियों का असली मकसद अमेरिका और उसके सहयोगी देशों को चेतावनी देना है। क्योंकि, इन दिनों चीन पूरी दुनिया में अलग-थलग हो गया है। यही नहीं, उससे सैन्य ताकत में कमजोर देश भी आंख दिखा रहे हैं।

कितनी ताकतवर है डीएफ-31
चीन की डांगफेंग-31 मिसाइल लंबी दूरी तक परमाणु हमला करने में सक्षम है। इसकी रेंज 7200 से लेकर 12000 किलोमीटर तक बताई जाती है। इस मिसाइल के तीन वैरियंट डीएफ-31, डीएफ- 31ए और डीएफ-31बी का चीनी सेना प्रयोग करती है। 42 टन वजनी यह मिसाइल एक साथ तीन से पांच न्यूक्लियर वॉरहेड लेकर जाने में सक्षम है। इस मिसाइल में सॉलिड फ्यूल इंजन का प्रयोग किया गया है, जिससे यह 8 किलोमीटर प्रति सेकेंड की स्पीड से उड़ान भर सकती है। इस मिसाइल को 16 चक्कों वाले ट्रक के ऊपर माउंट किया गया है।

मलेशिया ने चीन के 6 जहाजों को जब्त किया
मलेशिया ने एक दिन पहले ही साउथ चाइना सी में चीन के 6 जहाजों को अवैध रूप से जलीय सीमा पार करने के आरोप में जब्त कर लिया था। इन जहाजों पर सवार 60 चीनी मछुआरों को भी मलेशियन नेवी ने हिरासत में ले लिया था। खुद मलेशिया के रक्षा मंत्रालय ने बयान जारी कर इसकी पुष्टि की थी कि उसकी सेना ने चेतावनी देने के बावजूद समुद्री सीमा से बाहर नहीं जाने पर यह कार्रवाई की है।


जापान ने भी खदेड़ी चीनी कोस्टगार्ड की दो शिप
जापान ने भी विवादित आईलैंड के पास पहुंचे चीन के दो जहाजों को चेतावनी देकर खदेड़ दिया था। बताया जा रहा है कि ये जहाज कई घंटे से जापानी जलीय सीमा में घुसे हुए थे। जिसके बाद जापानी कोस्टगार्ड ने कार्रवाई करते हुए इन जहाजों को बाहर जाने पर मजबूर कर दिया। पूर्वी जापान सी में स्थित सेनकाकू आईलैंड को लेकर चीन और जापान के बीच कई साल से विवाद जारी है। हाल के दिनों में इस द्वीप के पास चीनी जहाजों की गतिविधियां तेजी से बढ़ी हैं, जिसके बाद जापान भी सतर्क हो गया है।



Source link

Previous Article
Next Article

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *