सेना उपप्रमुख एसके सैनी बोले- कोरोना के खिलाफ लड़ाई के बीच कुछ देशों ने की अपना वर्चस्व बढ़ाने की कोशिश

Spread the love


नई दिल्ली
भारतीय सेना उपप्रमुख लेफ्टिनेंट जनरल एसके सैनी (Vice Chief of the Army Staff Lt Gen S K Saini) ने कहा कि कोरोना वायरस महामारी (Coronavirus pandemic) के खिलाफ वैश्विक लड़ाई के बीच कई देशों ने अपना वर्चस्व बढ़ाने की कोशिश की। उन्होंने इसे अपनी सैन्य, आर्थिक और राजनीतिक वर्चस्व बढ़ाने के लिए ‘मौके’ के तौर पर हथियाया। बांग्लादेश के नेशनल डिफेंस कॉलेज की ओर से आयोजित एक कार्यक्रम को डिजिटल माध्यम से संबोधित करते हुए लेफ्टिनेंट जनरल सैनी ने ये बातें कही हैं।

सैनी बोले- ऐसा करना विश्व बिरादरी के लिए शुभ नहीं
लेफ्टिनेंट जनरल एसके सैनी ने कहा कि जब कई देश इस वायरस पर काबू पाने के लिए संघर्ष कर रहे हैं तब कुछ देशों ने सैन्य, आर्थिक और राजनीतिक रूप से अपना वर्चस्व बढ़ाने के लिए इस मौके को हथियाया। ऐसा करना विश्व बिरादरी के लिए शुभ नहीं है। उनकी टिप्पणी को सीधे तौर पर चीन के संदर्भ में देखा जा रहा है। जिसकी इस महामारी के बावजूद दक्षिण चीन सागर और हिंद प्रशांत महासागर में अपना सैन्य प्रभाव बढ़ाने की कोशिश को लेकर आलोचना हो रही है।

इसे भी पढ़ें:- भारतीय सेना ने लेफ्टिनेंट उमर फैयाज की याद में शुरू किया अवॉर्ड

सेना उपप्रमुख सैनी ने बिना नाम लिए चीन को घेरा
पूर्वी लद्दाख में करीब सात महीने से भारत और चीन के बीच सीमा विवाद को लेकर टकराव चल रहा है। चीन के आक्रामक बर्ताव के बाद यह स्थिति उत्पन्न हुई। सेना के बयान के अनुसार सैनी ने कहा, ‘ज्यादातर देशों की सामरिक सुरक्षा, सैन्य क्षमता और परियोजनाओं में धन की कटौती के चलते प्रभावित हुई है। ऐसा इसलिए क्योंकि बहुत बड़ी रकम अहम स्वास्थ्य जरूरतों पर लगाई गई।’



Source link

Previous Article
Next Article

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *