हाथरस केस में पीड़िता के तीनों भाइयों से फिर होगी पूछताछ, सीबीआई ने भेजा समन

Spread the love


हाइलाइट्स:

  • हाथरस के एक गांव में दलित युवती के साथ गैंगरेप और हत्या की बात आई थी सामने
  • इस मामले ने पूरे देश में सियासत का गरमाया था, यूपी सरकार की हुई थी फजीहत
  • हाथरस केस की जांच योगी सरकार ने सीबीआई को दी है
  • सीबीआई की टीम हाथरस में कर रही जांच, पीड़िता के भाइयों को भी बुलाया गया

हाथरस
हाथरस कांड की जांच कर रही केंद्रीय जांच ब्‍यूरो (CBI) की टीम पीड़िता के तीनों भाइयोंसे एक बार फिर से पूछताछ करेगी। बुधवार को समन जारी करके सीबीआई ने पीड़िता के तीनों भाइयोंको पूछताछ के लिए बुलाया है। कथित गैंगरेप और हत्या के मामले की जांच के लिए सीबीआई मंगलवार को पीड़िता के भाइयोंसे घंटों पूछताछ कर चुकी है।

सीबीआई की टीम मंगलवार को मौका-ए-वारदात यानी बाजरे के खेत में गई और तथ्य जुटाने के लिए वारदात का नाट्य रूपांतरण (रीक्रिएशन) करने की कोशिश की। इसके अलावा टीम उस जगह पर भी गई, जहां लड़की के शव का अंतिम संस्कार किया गया था। बाद में, सीबीआई टीम लड़की के भाई को अपने साथ हाथरस गेट थाना क्षेत्र में कृषि निदेशक कार्यालय स्थित अपने अस्थायी कैम्प कार्यालय ले गई और वहां उससे कई घंटे तक पूछताछ की। बाद में उसे घर पर छोड़ दिया गया।

हाथरस केस: सीबीआई टीम ने की पीड़िता के भाई से कई घंटे तक लंबी पूछताछ, बाद में घर पर छोड़ा

आरोपियों से भी सीबीआई करेगी पूछताछ
उत्तर प्रदेश सरकार ने हाथरस जिले के चंदपा थाना क्षेत्र स्थित एक गांव में गत 14 सितंबर को एक दलित लड़की से कथित तौर गैंगरेप के बाद हत्या मामले की सीबीआई जांच की सिफारिश की थी। केन्द्र सरकार ने पिछले हफ्ते सीबीआई जांच की अधिसूचना जारी की थी। सूत्रों के मुताबिक सीबीआई, कोर्ट से चारों आरोपियों की कस्टडी की मांग करेगी और उनसे पूछताछ करेगी।

अगले कुछ हफ्ते हाथरस में ही रहेगी सीबीआई टीम
हाथरस के एसपी विनीत जायसवाल ने बताया कि सीबीआई टीम ने जांच के दौरान जुटाए गए सबूतों और केस डायरी सहित केस से जुड़े डॉक्युमेंट्स मांगे थे। वहीं एक सीनियर पुलिसकर्मी ने बताया कि जांच के लिए सीबीआई के 15 अधिकारियों के अगले कुछ हफ्ते हाथरस में रहने की संभावना है।

हाथरस न्यूजः पीड़िता के तीन वीडियो आए सामने, तीनों में उसने कहा हुई ‘जबरदस्ती’, विरोध करने पर दबाया गला

पीड़ित परिवार की हाई कोर्ट से मांग
इससे पहले सोमवार को हाई कोर्ट की लखनऊ बेंच में गैंगरेप पीड़िता के जबरन अंतिम संस्कार पर सुनवाई हुई। इस दौरान पीड़िता के परिवार के बयान लिए गए। कोर्ट ने यूपी पुलिस को फटकार भी लगाई। पीड़ित परिवार ने ट्रायल को यूपी से बाहर शिफ्ट करने की मांग की। साथ ही यह भी कहा कि जब तक उनकी बिटिया को न्याय नहीं मिल जाता, वे अस्थि विसर्जन नहीं करेंगे।

हाथरस पीड़िता का परिवार की सहमति के बिना दाह संस्कार मानवाधिकारों का उल्लंघन: इलाहाबाद HC



Source link

Previous Article
Next Article

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *