हाथरस LIVE : क्राइम सीन पर सीधे अस्पताल से पहुंची पीड़िता की बीमार मां, CBI ने जुटाए सबूत

Spread the love


हाइलाइट्स:

  • सीबीआई की टीम मंगलवार को हाथरस के बूलगढ़ी गांव में घटनास्थल का कर रही है मुआयना
  • पीड़िता के भाई और मां को भी क्राइम सीन पर लाया गया था, घटना वाले दिन को लेकर पूछताछ
  • सीबीआई ने मुख्य आरोपी के खिलाफ आईपीसी और एससी-एसटी ऐक्ट के तहत केस दर्ज किया

हाथरस
हाथरस कांड में एफआईआर दर्ज करने के बाद सीबीआई अब ऐक्शन में है। सीबीआई की टीम ने आज गैंगरेप की घटना वाली जगह क्राइम सीन की जांच की। इस दौरान पीड़िता के भाई को भी क्राइम सीन पर लाया गया। इसके अलावा पीड़िता की मां भी अस्पताल से सीधे क्राइम सीन पर पहुंची थीं। वह इस मामले में अहम गवाह हैं। पीड़िता की मां तबीयत खराब होने के चलते अस्पताल गई थीं। अब सीबीआई की टीम उस जगह रवाना हो गई है जहां पीड़िता का शव जलाया गया था।

पीड़िता के घर पहुंची सीबीआई
सीबीआई की टीम अब पीड़िता के घर पहुंची है। यहां पीड़िता के परिजनों से बात हो रही है। घटना वाले दिन किसने क्या देखा, इस पर पूछताछ हो रही है। साथ ही पीड़िता के दाह संस्कार की जानकारी भी जुटाई जा रही है।

पीड़िता के अंतिम संस्कार वाली जगह पहुंची CBI
क्राइम सीन की जांच के बाद अब सीबीआई की टीम उस जगह गई है जहां पीड़िता का शव जलाया गया था। सीबीआई के साथ फरेंसिक टीम भी मौजूद है। सीबीआई की टीम 11 बजे से बूलगढ़ी गांव में मौजूद है।

घटनास्थल पर पहुंची पीड़िता की मां भी
सीबीआई ने घटनास्थल पर अब पीड़िता की मां को भी बुलाया है। तबीयत खराब होने के कारण मां अस्पताल में थीं, लेकिन अब सीधे घटनास्थल पर पहुंची हैं। सीबीआई की टीम 11 बजे से ही क्राइम सीन पर मौजूद है। बता दें कि पीड़िता की मां केस की मुख्य गवाह हैं। सीबीआई ने क्राइम सीन की वीडियोग्राफी भी की है। सीबीआई के साथ फरेंसिक टीम भी क्राइम सीन से सबूत इकट्ठे कर रही है।

पीड़िता के पिता की तबीयत बिगड़ी, गांव पहुंचे डॉक्टर
उधर पीड़िता के पिता की तबियत बिगड़ गई है। बताया जा रहा है कि पीड़िता के पिता का अचानक बीपी बढ़ गया है। रात में ही वह परिवार के साथ लखनऊ से लौटे हैं। सीएमओ ब्रजेश राठौर गांव पहुंचे। हालात खराब होने पर पीड़िता के पिता को ले जाया जा सकता है।

पढ़ें: हाथरस का सच आखिर है क्या? कोर्ट से आरोपियों की कस्टडी मांगेगी CBI, पर यह है सबसे बड़ी चुनौती

हाथरस कांड: पीड़िता का शव रात में जलाने पर अफसरों को HC की कड़ी फटकार

सीबीआई की टीम से आने से पहले गांव में सुरक्षा कड़ी कर दी गई थी। गांव के अंदर और घटनास्थल के पास भारी संख्या में पुलिस फोर्स है। सीबीआई ने इस केस और घटना से जुड़े सभी अहम कागजात और केस डायरी को भी खंगाला है।

क्राइम सीन पर पुलिस फोर्स

क्राइम सीन पर पुलिस फोर्स

कोर्ट से आरोपियों की रिमांड मांगेगी सीबीआई
सूत्रों के मुताबिक, इसके बाद सीबीआई कोर्ट से चारों आरोपियों की कस्टडी की मांग करेगी और उनसे पूछताछ करेगी। सीबीआई आरोपियों के साथ ही पीड़िता के परिवार से भी पूछताछ कर सकती है। सीबीआई पीड़िता की मां से मैजिस्ट्रेट के सामने बयान देने को भी कह सकती है क्योंकि वह मामले की मुख्य गवाह हैं।

पढ़ें: हाथरस पीड़िता के परिवार केस को यूपी से बाहर शिफ्ट करने की मांग की

अगले कुछ हफ्ते हाथरस में ही रहेगी सीबीआई टीम
हाथरस के एसपी विनीत जायसवाल ने बताया कि सीबीआई टीम ने जांच के दौरान जुटाए गए सबूतों और केस डायरी सहित केस से जुड़े डॉक्युमेंट्स मांगे थे। वहीं एक सीनियर पुलिसकर्मी ने बताया कि जांच के लिए सीबीआई के 15 अधिकारियों के अगले कुछ हफ्ते हाथरस में रहने की संभावना है।

पीड़ित परिवार की हाई कोर्ट से मांग
इससे पहले सोमवार को हाई कोर्ट की लखनऊ बेंच में गैंगरेप पीड़िता के जबरन अंतिम संस्कार पर सुनवाई हुई। इस दौरान पीड़िता के परिवार के बयान लिए गए। कोर्ट ने यूपी पुलिस को फटकार भी लगाई। पीड़ित परिवार ने ट्रायल को यूपी से बाहर शिफ्ट करने की मांग की। साथ ही यह भी कहा कि जब तक उनकी बिटिया को न्याय नहीं मिल जाता, वे अस्थि विसर्जन नहीं करेंगे।

आरोपियों के वकील का दावा- ऑनर किलिंग का मामला है हाथरस केस



Source link

Previous Article
Next Article

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *