Amit Shah Interview: उद्धव ठाकरे को लिखे गवर्नर कोश्यारी के खत पर बोले शाह- ऐसे श्ब्दों से बचा जा सकता था

Spread the love


नई दिल्ली
कुछ दिनों पहले ही महाराष्ट्र के गवर्नर भगत सिंह कोश्यारी (Bhagat Singh Koshyari) ने व्यंगात्मक लहजे में महाराष्ट्र की सीएम उद्धव ठाकरे (Uddhav Thackeray) को एक पत्र लिखा था। उस पत्र को लेकर सियासत में उबाल भी आया था। इस पत्र के बारे में एक सवाल पूछे जाने पर गृहमंत्री अमित शाह (Amit Shah Interview) ने कहा कि ऐसे शब्दों से बचा जा सकता था। उन्होंने कहा कि कोश्यारी अपने शब्दों का सही प्रकार से चयन कर सकते थे।

अमित शाह का जवाब
दरअसल, महाराष्ट्र के राज्यपाल भगत सिंह कोश्यारी ने सीएम ठाकरे पर अपने पत्र में सवाल खड़े करते हुए लिखा था, ‘कि क्या वह सेक्युलर हो गये हैं’। केंद्रीय गृहमंत्री अमित शाह ने सीएनएन न्यूज 18 चैनल को दिए इंटरव्यू में इस पत्र को लेकर कहा कि कोश्यारी अपने शब्दों का सही प्रकार से इस्तेमाल कर सकते थे और इस तरह के शब्दों का चयन करने से बच सकते थे।

चिराग से लेकर बंगाल और कृष्ण जन्मभूमि तक… गृह मंत्री अमित शाह के इंटरव्यू की 10 बड़ी बातें

क्या लिखा था पत्र में
कोश्यारी ने उद्धव ठाकरे को एक पत्र लिखा था। पत्र में लिखा गया था कि कोरोना संकट के बीच महाराष्ट्र में मंदिरों को फिर से खोलने को लेकर राज्यपाल कोश्यारी ने मुख्यमंत्री उद्धव ठाकरे को ‘हिंदुत्व का मजबूत समर्थक’ बताते हुए एक व्यंगात्मक पत्र लिखा था। इस पत्र में उन्होने लिखा था कि ये जानकर बेहद हैरानी हो रही है कि क्या मुख्यमंत्री को ‘पूजा के स्थानों के फिर से खोले जाने के कदम को स्थगित करने के लिए कोई दैवीय आदेश मिल रहा है’, या फिर वह स्वयं को ‘धर्मनिरपेक्ष’ बना चके हैं। एक शब्द जिससे वह(ठाकरे) नफरत किया करते थे।

सीएम ने दिया था जवाब
महाराष्ट्र के सीएम उद्धव ठाकरे ने कोश्यारी के इन शब्दों पर कड़ी आपत्ति जताते हुए ठाकरे ने एक दिन बाद कोश्यारी को जवाब दिया था, जिसमें उन्होंने कहा था कि उन्हें किसी से भी हिंदुत्व का पाठ सीखने की आवश्यकता नहीं है।



Source link

Previous Article
Next Article

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *