Bihar Election 2020: आरजेडी से निकाले गए तीन में से दो विधायकों ने थामा जेडीयू का दामन, सासाराम MLA अशोक कुमार भी नीतीश की पार्टी में

Spread the love


हाइलाइट्स:

  • बिहार में विधानसभा चुनाव से ठीक पहले सियासी घमासान हुआ तेज
  • आरजेडी से निकाले गए तीन विधायकों में दो ने जेडीयू का थामा दामन
  • प्रेमा चौधरी, महेश्वर यादव के साथ सासाराम से आरजेडी MLA अशोक कुमार भी जेडीयू में
  • नीतीश कुमार की सरकार में मंत्री रहे श्याम रजक आरजेडी में हुए शामिल

पटना
बिहार में विधानसभा चुनाव की तारीखों का ऐलान भले ही अभी नहीं हुआ है, लेकिन सियासी घमासान तेज होने लगा है। एक दिन पहले ही आरजेडी से निकाले गए तीन विधायकों में दो ने आज जेडीयू का दामन थाम लिया। जिन दो विधायकों ने जेडीयू का दामन थामा उनमें प्रेमा चौधरी, महेश्वर यादव शामिल हैं। दिल्ली में होने की वजह से फराज फातमी आज JDU में शामिल हुए। वहीं आरजेडी को एक और झटका लगा है। सासाराम से आरजेडी के विधायक अशोक कुमार भी नीतीश कुमार की पार्टी में शामिल हो गए।

महेश्वर यादव ने कहा- आरजेडी परिवार की पार्टी
इस मौके पर महेश्वर यादव ने कहा कि आरजेडी ने गरीबों के लिए कुछ नहीं किया। वहां गरीबों के विकास तक के लिए कुछ नहीं सोचा जाता है। मैं नीतीश कुमार के विकास कार्यों से प्रेरित होकर जेडीयू में आया हूं। आरजेडी परिवार की पार्टी है, वहां उद्योगपतियों को राज्यसभा भेजा जाता है। वहीं, प्रेमा चौधरी ने कहा कि आरजेडी में महिलाओं और दलितों के लिए कोई जगह नहीं है।

सासाराम से आरजेडी विधायक अशोक कुमार भी जेडीयू में
जेडीयू में शामिल हुए महेश्वर प्रसाद यादव मुजफ्फरपुर के गायघाट से विधायक हैं। बिहार की महागठबंधन सरकार गिरने के बाद से ही वो RJD के लिए सिरदर्द बने हुए थे। महेश्वर लगातार नीतीश कुमार की नीतियों की तारीफ कर रहे थे। इसी की वजह से आरजेडी ने उन्हें निष्काषित कर दिया। वहीं, सासाराम से विधायक अशोक कुमार भी राष्ट्रीय जनता दल का दामन छोड़कर नीतीश कुमार के खेमे में आ गए हैं।

इसे भी पढ़ें:- श्याम रजक RJD में शामिल, तेजस्वी यादव ने दिलाई सदस्यता

एक दिन पहले ही आरजेडी ने इन 3 विधायकों को पार्टी से निकाला
बिहार में अक्टूबर-नवंबर में विधानसभा के चुनाव हो सकते हैं। ऐसे में सभी प्रमुख सियासी दलों ने अपनी तैयारियां तेज कर दी हैं। इस बीच मुख्य विपक्षी पार्टी आरजेडी ने रविवार को पार्टी विरोधी गतिविधियों के चलते अपने तीन विधायकों को पार्टी से छह साल के लिए निष्कासित कर दिया था। आरजेडी के प्रदेश महासचिव आलोक मेहता ने प्रेमा चौधरी, महेश्वर यादव और फराज फातमी को निष्कासित किए जाने का ऐलान किया था। इस घटनाक्रम के अगले ही दिन प्रेमा चौधरी और महेश्वर यादव जेडीयू में शामिल हो गए।

घमंड में चूर हैं नीतीश, जनता सिखाएगी सबक: श्याम रजक

जेडीयू से निकाले जाने के बाद श्याम रजक आरजेडी में
दूसरी ओर बिहार की राजनीति में महादलित वोटबैंक के बीच बड़ा चेहरा माने जाने वाले श्याम रजक सोमवार को राष्ट्रीय जनता दल (आरजेडी) में शामिल हो गए। वे 11 साल बाद आरजेडी में आए हैं। तेजस्वी यादव ने उन्हें आरजेडी की सदस्यता दिलाई। नीतीश कुमार की सरकार में मंत्री रहे श्याम रजक को जेडीयू ने रविवार को निष्कासित कर दिया था। इसके बाद से ही अटकलें तेज थी कि श्याम रजक आरजेडी में शामिल होंगे। इससे पहले श्याम रजक ने सोमवार सुबह में ही अपनी विधायकी से इस्तीफा दे दिया।



Source link

Previous Article
Next Article

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *