CM योगी की अधिकारियों को दो टूक, कहा-भ्रष्टाचारियों के वेतन से हो जनता की गाढ़ी कमाई की वसूली

Spread the love


लखनऊ
सीएम ने रविवार को बरेली मंडल के विकास कार्यों की समीक्षा की। इस दौरान योगी ने कहा विकास योजनाओं की गुणवत्ता व समयबद्धता सुनिश्चित करने के लिए शासन, जिला और कार्यदायी संस्थाएं परियोजनाओं की नियमित निगरानी करें। विकास का पैसा जनता की गाढ़ी कमाई का है। इसके पाई-पाई का सदुपयोग हो। पैसा जिस मद का है, अनिवार्य रूप से उसी में खर्च करें। अगर कहीं भ्रष्टाचार की शिकायत आती है तो उसकी जांच कराएं। दोषी के वेतन से उसकी वसूली करें। जरूरी हो तो उसकी संपत्ति जब्त करने की कार्यवाही हो।

उन्होंने कहा कि बरेली में शीघ्र ही टेक्सटाइल पार्क का निर्माण शुरू हो जाएगा। इससे यहां बड़े पैमाने पर रोजगार मिलेगा। पीलीभीत स्थित ‘चूका’ को पर्यटन और वन विभाग मिलकर पर्यटन स्थल के रूप में विकसित करें। जरूरतमंदों को रोजी-रोजगार मिले, इसके लिए नियमित जिला स्तरीय बैंकर्स कमेटी के साथ बैठक करे। ‘आत्मनिर्भर भारत’ योजना में कृषि क्षेत्र की बुनियादी संरचना को बेहतर करने की असीम संभावनाएं हैं। पीएम स्वधन और मुद्रा जैसी प्रोत्साहित करने वाली योजनाओं से लोगों को लाभान्वित करें। हर ब्लाक में एफपीओ का गठन करें। नवीन गोदामों के लिए प्रस्ताव तैयार किया जाए।

कोविड अस्पतालों और आईसीयू बेड्स की संख्या में होगा इजाफा
सीएम योगी आदित्यनाथ ने कहा है कि कोविड अस्पतालों में आईसीयू बेड्स की संख्या और बढ़ाई जाए। अस्पतालों में दवाई और ऑक्सिजन की पूरी उपलब्धता हो, जिससे इलाज में कोई दिक्कत न आए। लखनऊ, प्रयागराज, कानपुर और गोरखपुर में विशेष सतर्कता बरतने की जरूरत है। यह कांटैक्ट ट्रेसिंग पूरी सक्रियता के साथ हो। अधिकारी इसकी नियमित मॉनिटरिंग करें।



Source link

Previous Article
Next Article

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *