Corona Vaccine News: कोरोना वैक्सीन की खोज में भारत में 160 मुल्क, यह तस्वीर भारतीयों का सीना गर्व से चौड़ा करती है

Spread the love


आज सुबह की यह तस्वीर कोरोना वैक्सीन पर भारत की बादशाहत की तस्वीर है। ब्रिटेन में कोरोना वैक्सीन भले ही लगनी शुरू हो गई है, लेकन दुनिया की नजरें भारत पर टिकी हैं। इसकी बड़ी वजह है। दरअसल कोरोना वैक्सीन की टोकरी भारत के हाथ में है। यह टोकरी है हैदराबाद में। दुनिया के 60 देशों के राजनयिक आज शहर में मौजूद हैं।

यह तस्वीरें भारतीयों का सीना गर्व से चौड़ा करती हैं

भारत में कोरोना वायरसरोधी टीके के विकास में वैश्विक दिलचस्पी को देखते हुए बुधवार को अपनी तरह की पहली पहल के तहत 60 देशों के राजदूतों को हैदराबाद स्थित प्रमुख जैव प्रौद्योगिकी कंपनियों, भारत बायोटेक एवं बायोलॉजिकल ई का दौरान कर रहे हैं।

भारत बायोटेक देसी कोरोना वैक्सीन को कोवैक्सीन पर काम कर रहा है। जबक हैदराबाद स्थित फर्म बायोलॉजिकल ई लिमिटेड (बीई) ने जॉनसन एंड जॉनसन के COVID-19 वैक्सीन की निर्माण क्षमताओं को बढ़ाने के लिए फार्मा प्रमुख जॉनसन एंड जॉनसन के हिस्से जानसेन फार्मास्युटिका NV के साथ एक समझौता किया है।

दुनिया को कम दाम में कारगर वैक्सीन की तलाश

दुनिया के देशों को दरअसल कम दाम में एक कारगर कोरोना वैक्सीन की तलाश है। इसकी खोज उन्हें भारत तक ले आई है। करीब एक महीने पहले विदेश मंत्रालय ने 190 से ज्यादा राजनयिक मिशनों और प्रमुख अंतरराष्ट्रीय संगठनों को कोविड-19 से संबंधित मुद्दों पर जानकारी दी थी। विदेश मंत्रालय की कोविड-19 ब्रीफिंग पहल के तहत भारत में विदेशी मिशनों के प्रमुखों को हैदराबाद ले जाया जा रहा है। उन्हें दूसरे शहरों में भी ले जाया जाएगा।

कोरोना वैक्सीन पर भारत की तरफ क्यों देख रही दुनिया

कोरोना वायरस महामारी का कहर दुनियाभर में जारी है। विश्व में अब तक इस महामारी के 6.8 करोड़ मामलों की पुष्टि हुई है और कम से कम 190 देशों में अब तक 15 लाख से ज्यादा लोगों की इस बीमारी से मौत हो चुकी है। कोविड-19 से निपटने के लिए कई टीकों पर काम चल रहा है लेकिन ध्यान उनके उत्पादन पर है। भारत पहले ही घोषणा कर चुका है कि उसके टीके के उत्पादन और वितरण क्षमता का उपयोग कोविड-19 महामारी से लड़ने में मानवता की मदद करने के लिए किया जाएगा और वह अन्य देशों की कोल्ड स्टोरेज तथा भंडारण क्षमता को बढ़ाने में मदद करेगा। भारत दुनिया का सबसे बड़ा वैक्सीन बनाने वाला देश है।

लैब में जा मोदी ने भी ली थी वैक्सीन की रिपोर्ट

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने भी पिछले दिनों कोरोना वायरस के टीके के विकास के काम की समीक्षा के लिए अहमदाबाद, हैदराबाद और पुणे का दौरा किया था। उन्होंने अहमदाबाद में जायडस बायोटेक पार्क, हैदराबाद में भारत बायोटेक और पुणे में सीरम इंस्टीट्यूट ऑफ इंडिया का दौरा किया।

मोदी ने भी बताई थी भारत की वैक्सीन की अहमियत

PM मोदी ने इस दौरान वैक्सीन को लेकर दुनिया में भारत की अहमियत का जिक्र किया था। उन्होंने बताया था कि भारतीय टीके को न केवल अच्छे स्वास्थ्य की दृष्टि से महत्वपूर्ण मानता है, बल्कि वैश्विक स्तर पर बेहतरी के लिए भी इसे जरूरी समझता है और वायरस के खिलाफ सामूहिक लड़ाई में यह भारत का दायित्व है कि वह अपने पड़ोसी देशों सहित अन्य देशों का भी सहयोग करे।



Source link

Previous Article
Next Article

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *