Coronavirus In India: संक्रमण की दर गिरकर 8.60 प्रतिशत , रिकवरी रेट 75 प्रतिशत से ज्यादा

Spread the love


हाइलाइट्स:

  • भूषण ने बताया कि पिछले 24 घंटों में एक्टिव मामलों में 6423 की गिरावट दर्ज हुई
  • मंत्रालय की ओर से बताया गया कि कुल मामलों के 22.2 प्रतिशत केस ऐक्टिव हैं
  • पिछले 24 घंटे में एक्टिव केस की संख्या में 6,400 की गिरावट दर्ज हुई है

नई दिल्ली
भारत में कोरोना वायरस का संक्रमण तेजी से फैलता जा रहा है लेकिन सरकार इसके रोकथाम के लिए हर संभव तरीके अपना रही है। इस वायरस का अभी तक कोई पूर्णकालिक इलाज नहीं मिला है लेकिन बचाव और ज्यादा से ज्यादा टेस्टिंग करके इसको रोका जा सकता है। स्वास्थ्य मंत्रालय लगातार टेस्टिंग पर ही जोर दे रहा है। उसी का परिणाम है आज रेकॉर्ड स्तर पर जांचे की जा रही है। मंगलवार को आंकड़े जारी करते हुए मंत्रालय ने कहा कि देश में प्रति 10 लाख की आबादी पर कोविड-19 संबंधी जांच की संख्या बढ़कर 26,685 हो गई है और देश में अब तक लगभग 3.7 करोड़ नमूनों की जांच हो चुकी है। इसके साथ ही संक्रमण की दर गिरकर 8.60 प्रतिशत रह गई है।

कोरोना टेस्टिंग बढ़ी
देश में कोरोना वायरस की स्थिति को लेकर स्वास्थ्य मंत्रालय ने प्रेस कॉन्फ्रेंस की। मंत्रालय की ओर से बताया गया कि देश में अब तक 3 करोड़ 60 लाख से ज्यादा टेस्ट किए जा चुके हैं। स्वास्थ्य सचिव राजेश भूषण ने बताया कि देश में ठीक हुए मरीजों की संख्या एक्टिव केस से तीन गुना ज्यादा है। उन्होंने बताया कि देश में लैब की संख्या में भी इजाफा हुआ है। इसमें प्राइवेट और सरकारी लैब दोनों हैं। जिसके कारण टेस्टिंग की संख्या बढ़ी है।

कुल मामलों के 22.2 प्रतिशत केस ऐक्टिव
मंत्रालय की ओर से बताया गया कि कुल मामलों के 22.2 प्रतिशत केस ऐक्टिव हैं। रिकवरी रेट 75 प्रतिशत से ज्यादा हो गया है। देश में कोरोना से मृत्युदर 1.58 प्रतिशत है जो कि दुनिया में सबसे कम में शामिल है। पिछले 24 घंटे में एक्टिव केस की संख्या में 6,400 की गिरावट दर्ज हुई है। ये पहली बार हुआ है।

भूषण ने बताया कि पिछले 24 घंटों में एक्टिव मामलों में 6423 की गिरावट दर्ज हुई है। कुल एक्टिव मामलों में से कुल 2.70 प्रतिशत मामले ही ऑक्सीजन सपोर्ट पर हैं। उन्होंने कहा, ‘अभी तक कोरोना की वजह से कुल 58,390 मौतें हुई हैं जिसमें से 69% पुरुष और 31% महलाएं हैं। 36% 45-60 आयु के और 51% 60 और उससे ऊपर की आयु वर्ग वाले लोग हैं।’



Source link

Previous Article
Next Article

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *