India China War 2020: लद्दाख के पास चीनी सेना ने दागी नई मिसाइलें, रात में की रॉकेट की बारिश

Spread the love


हाइलाइट्स:

  • चीन ने अपने उत्‍तरी-पश्चिमी रेगिस्‍तानी इलाके में नई मिसाइलों का परीक्षण किया है
  • यही नहीं चीनी सेना ने लद्दाख में चल रहे तनाव के बीच रात के समय युद्धाभ्‍यास किया
  • चीनी सेना ने रात के समय रॉकेट दागे और कई तरह के बमों का परीक्षण भी किया

पेइचिंग
पूर्वी लद्दाख में युद्ध जैसे हालात के बीच चीन ने अपने उत्‍तरी-पश्चिमी रेगिस्‍तानी इलाके में नई मिसाइलों का परीक्षण किया है। यही नहीं चीनी सेना ने रात के समय युद्धाभ्‍यास भी किया। चीन के सरकारी प्रोपेगेंडा अखबार ग्‍लोबल टाइम्‍स ने दावा किया कि पीएलए की ब्रिगेड ने पश्चिमोत्‍तर चीन के रेगिस्‍तान में लाइव फायर ड्रिल किया। इस दौरान एक नई मिसाइल का परीक्षण किया गया।

ग्‍लोबल टाइम्‍स ने बताया कि चीनी सेना ने रात के समय में भी हमला करने का अभ्‍यास किया। चीनी सेना ने रॉकेट दागे और कई तरह के बमों का परीक्षण भी किया। चीन और भारत के बीच पूर्वी लद्दाख में मई से शुरू हुआ तनाव अब और भी गंभीर होता जा रहा है। गलवान घाटी की हिंसा के बाद पैंगॉन्ग झील पर भी दोनों सेनाओं की बीच झड़प हुई। चीन ने आरोप लगाया है कि भारतीय सेना ने उस पर गोलीबारी की है। इस सबके बीच चीन की पीपल्स लिबरेशन आर्मी (PLA) ने इस क्षेत्र में भारी सेना और हथियार तैनात करना तेज कर दिया है। देश के अलग-अलग हिस्सों से सेना यहां बुलाई जा रही है।

चीनी मीडिया की चेतावनी- ‘उकसाना बंद करे भारत या हारने को तैयार रहे’

देशभर से बुलाई सेना, परमाणु बॉम्‍बर ने किया अभ्‍यास
चीन के अखबार ग्लोबल टाइम्स ने सुरक्षा विश्लेषकों के हवाले से दावा किया है कि चीनी PLA ने सुरक्षाबल और भारी हथियारों की तैनाती बढ़ा दी है और इनके साथ युद्धाभ्यास किया जा रहा है। अखबार के मुताबिक एयर डिफेंस, सशस्त्र वाहन, पैराट्रूपर, स्पेशल फोर्स और इन्फैन्ट्री को देशभर के हिस्सों से बुलाकर इस क्षेत्र में लगाया गया है। PLA के सेंट्रल थिअटर कमांड एयरफोर्स के H-6 बॉम्बर और Y-20 ट्रांसपोर्ट एयरक्राफ्ट ट्रेनिंग मिशन के लिए यहां तैनात किए हैं।

HJ-10 ऐंटी-टैंक मिसाइल सिस्टम की तैनाती की गई

ग्लोबल टाइम्स ने पब्लिक मीडिया रिपोर्ट्स के हवाले से दावा किया है कि लंबी-दूरी के ऑपरेशन, तैनाती के लिए अभ्यास और लाइव-फायर ड्रिल कई हफ्तों से जारी हैं। यह कार्रवाई उत्तरपश्चिम चीन के रेगिस्तान और दक्षिणपश्चिम चीन के तिब्बत क्षेत्र में की जा रही है। चीन सेंट्रल टेलिविजन (CCTV) ने पिछले हफ्ते दावा किया था कि PLA की 71वें ग्रुप सेना का HJ-10 ऐंटी-टैंक मिसाइल सिस्टम पूर्वी चीन के जियांगसू प्रांत से गोबी रेगिस्तान पहुंचा है।


भारत पर लगाया गोलीबारी करने का आरोप

PLA के तिब्बत मिलिट्री कमांड ने 4,500 मीटर की ऊंचाई पर संयुक्त ब्रिगेड स्ट्राइक एक्सरसाइज की है। PLA की 72वें ग्रुप सेना भी उत्तरपश्चिम में पहुंची है और यहां इसकी एयर डिफेंस ब्रिगेड ने भी लाइव-फायर ड्रिल की हैं जिनमें ऐंटी-एयरक्राफ्ट गन और मिसाइल पर अभ्यास किया गया। इससे पहले चीन के पश्चिमी थिअटर कमांड ने आरोप लगाया है कि 7 सितंबर को उसके सैनिक बातचीत के लिए गए थे और वहां उन पर भारतीय सैनिकों ने गोलीबारी की।



Source link

Previous Article
Next Article

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *