Kim Jong Un की ग्रैंड मिलिट्री परेड में किसी को नहीं कोरोना का डर, बिना मास्क पहने शक्ति प्रदर्शन

Spread the love


उत्तर कोरिया के तानाशाह किम जोंग उन को लेकर अक्सर कई तरह की खबरें आती रहती हैं। देश में जानकारी पर सेंसरशिप की वजह से आमतौर पर असल हालात सामने नहीं आते। हालांकि, देश में 10 अक्टूबर को एक कार्यक्रम आयोजित किया गया जिस पर पूरी दुनिया की नजरें थीं। दरअसल, न सिर्फ तानाशाह किम जोंग दुनिया के सामने नजर आए बल्कि अपनी सैन्यशक्ति का पूरा दमखम भी दिखाया। खास बात यह रही है कि इस दौरान किम भावुक भी नजर आए और उन्होंने देश की सेना से कोरोना वायरस की महामारी रोकने के लिए धन्यवाद कहा।

किलर मिसाइलों की थी चर्चा

बता दें कि किलर मिसाइलों को पागलों की हद तक पसंद करने वाले उत्‍तर कोरिया के क्रूर तानाशाह किम जोंग उन ने एक बेहद घातक नई परमाणु मिसाइल बनाई है जो पूरे अमेरिका के किसी भी शहर को तबाह कर सकती है। उत्‍तर कोरिया के मिसाइल बनाने की यह खबर ऐसे समय पर आई है जब किम जोंग उन और पश्चिमी देशों के बीच बातचीत रुक गई है। इस मिसाइल का नाम नाम Hwasong-15 है और माना जा रहा है कि किम जोंग उन ने इसे सैन्‍य परेड में पेश किया है। हालांकि अभी इसकी पुष्टि नहीं हुई है।

किसी ने नहीं पहना था मास्क

किम जोंग ने इस दौरान यह भी दावा किया कि देश में किसी को भी कोरोना इन्फेक्शन नहीं हुआ है। देश ने शुरुआत से ही इस बात का दावा किया है लेकिन तमाम रिपोर्ट्स में इस दावे को गलत बताया। हालांकि, परेड के दौरान भी कोई भी मास्क पहने नहीं दिखाई दिया। किम ने उत्तर कोरिया पर लगे प्रतिबंधों, टाइफून जैसी प्राकृतिक आपदाओं और दुनियाभर में तबाही मचाने वाली कोरोना वायरस की महामारी को अपने आर्थिक विकास के वादे को पूरा नहीं कर पाने के पीछे की वजह बताया।

‘पहले इस्तेमाल नहीं करेंगे हथियार’

खास बात यह रही कि परेड में उत्तर कोरिया की बैलिस्टिक मिसाइलों का भी प्रदर्शन किया गया। किम ने कहा कि देश अपनी राष्ट्रीय सुरक्षा की ताकत को बढ़ाना चाहता है। उन्होंने यह भी दावा किया कि आत्मरक्षा में जंग को टालने के लिए भी ताकत बढ़ा जा रही है। हालांकि, उन्होंने साफ किया कि देश की ताकत पहले इस्तेमाल नहीं की जाएगी।

सेना ने दिखाई ताकत

उत्तर कोरिया में शनिवार को सत्ताधारी वर्कर्स पार्टी की 75वीं सालगिरह मनाई गई। समारोह को यहां एक ऐसे कार्यक्रम के तौर पर देखा गया जब किम ने देश-विदेश को संदेश दिया है। राइफल से लैस सैनिकों ने इस दौरान परेड में हिस्सा लिया और भारी भीड़ सब देखती रही। साउथ कोरिया के जॉइंट चीफ ऑफ स्टाफ ने कहा कि उत्तर कोरिया ने परेड के दौरान बड़ी संख्या में सैन्य उपकरणों का प्रदर्शन किया।



Source link

Previous Article
Next Article

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *