LIVE: कंगना ने उद्धव पर फिर दागा ट्वीट, बहन रंगोली ने टूटे दफ्तर का हाल जाना

Spread the love


कंगना रनौत और महाराष्ट्र सरकार के बीच विवाद गहरा होता जा रहा है। बृह्नमुंबई म्युनिसिपल कार्पोरेशन (BMC) ने कंगना रनौत के ऑफिस में जो तोड़फोड़ की है, उससे वह काफी नाराज हैं। कंगना की बहन रंगोली ने गुरुवार को ऑफिस जाकर वहां का जायजा लिया। बताया जा रहा है उन्होंने ऑफिस की कुछ तस्वीरें लीं और वीडियोज भी बनाए हैं। इसी बीच कंगना ने फिर से उद्धव सरकार के खिलाफ ट्वीट किया है।

कंगना के सपोर्ट में आया IMPPA प्रोड्यूसर्स एसोसिएशन
कंगना के सपोर्ट में कई लोग आ चुके हैं और बीएमसी के ऐक्शन को गलत बताया है। अब IMPPA प्रोड्यूसर्स एसोसिएशन ने कंगना का समर्थन क‍िया है। इससे पहले अनुपम खेर भी इसे गलत और अफसोसजनक बताया था।

कंगना ने इस ऐक्शन को बताया सरकार की गुंडागर्दी
कंगना ने ट्वीट किए हैं, मैं इस बात को विशेष रूप से स्पष्ट करना चाहती हूं की महाराष्ट्र के लोग सरकार द्वारा की गयी गुंडागर्दी की निंदा करते हैं, मेरे मराठी शुभचिंतकों के बहुत फ़ोन आ रहे हैं, दुनिया या हिमाचल में लोगों के दिल में जो दुख हुआ है वो यह कतई ना सोचों की मुझे यहाँ प्रेम और सम्मान नहीं मिलता।

बताया, महाराष्ट्र सरकार की काली करतूत
मेरे कई मराठी दोस्त कल फ़ोन पे रोए,कितनों ने मुझे सहायता हेतु कई सम्पर्क दिए, कुछ घर पे खाना भेज रहे थे जो मैं सिक्यरिटी प्रोटोकॉल्ज़ के चलते स्वीकार नहीं कर पायी,महाराष्ट्र सरकार की इस काली करतूत से दुनिया में मराठी संस्कृति और गौरव को ठेस नहीं पहुँचानी चाहिए. जय महाराष्ट्रा।

कंगना के ऑफिस में बीएमसी ने 2 घंटे मचाया था उत्पात
कंगना रनौत के ऑफिस में बुधवार को BMC ने करीब 2 घंटे तक जमकर तोड़फोड़ की। बीएमसी अधिकारियों का कहना है कि उन्होंने केवल अवैध निर्माण हटाया है। जबकि कंगना का कहना है कि उनके ऑफिस में कुछ भी गलत तरीके से नहीं बना था। कंगना की अपील की सुनवाई कोर्ट में 3 बजे है। इसमें बीएमसी को साबित करना होगा कि उनका ऐक्शन सही था।

मुंबई पहुंचकर कंगना ने पोस्ट किए ऑफिस के अंदर के वीडियो, दिखाई BMC की तोड़फोड़

बीएमसी का दावा, गलत तरीके से किया रेनोवेशन ही तोड़ा
बीएमसी के अफसरों ने नोटिस देने के 2 दिन बाद कंगना के ऑफिस पर ऐक्शन ले लिया। नोटिस में बताया गया था कि कंगना का ऑफिस रेजिडेंशल बिल्डिंग है और उसमें नियमों के खिलाफ रेनोवेशन करवाया गया है। BMC का दावा है सिर्फ गलत तरह से बना हिस्सा ही तोड़ा गया है। वहीं कंगना रनौत ने बीएमसी के ऐक्शन के बाद कई ट्वीट्स किए थे। उनका कहना था कि ऑफिस का इंटीरियर भी तोड़ा गया। एक ट्वीट में कंगना ने लिखा था कि उनका ऑफिस 24 घंटे में अचानक अवैध हो गया और इसमें फर्निचर के साथ सबकुछ तोड़ डाला गया।

कोर्ट ने कहा, बीएमसी के ऐक्शन में दुर्भावना की बू
बॉम्बे हाई कोर्ट ने कंगना के ऑफिस में किसी भी तरह की तोड़फोड़ करने पर BMC को रोक दिया है। हालांकि स्टे मिलने से पहले उनका काफी नुकसान हो चुका था। कोर्ट ने BMC के इस ऐक्शन को गलत बताया और कहा कि इससे दुर्भावना की बू आ रही है। कंगना के वकील ने भी स्टेटमेंट दिया था कि नोटिस देने के बाद मोहलत नहीं दी गई। कंगना ने 7 दिन की मोहलत मांगी थी। नोटिस उनके ऑफिस के बाहर चिपकाने के 2 दिन के भीतर ही ऐक्शन ले लिया गया।

तीन बजे कोर्ट में सुनवाई, क्‍या BMC को देना होगा कंगना के दफ्तर को हुए नुकसान का मुआवजा?



Source link

Previous Article
Next Article

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *