North Korea के परमाणु हथियार, चाचा की हत्‍या…डोनाल्‍ड ट्रंप ने खोले Kim Jong Un के कई राज

Spread the love


हाइलाइट्स:

  • किम जोंग उन को लेकर किताब ‘रेज’ में छपी डोनाल्ड ट्रंप की टिप्पणियां चर्चा का विषय बनीं
  • खोजी पत्रकार बॉब वुडवर्ड की किताब ‘रेज’ 15 सितंबर से दुकानों पर उपलब्ध होगी
  • वुडवर्ड ने इस किताब के कुछ अंश और ट्रंप के साक्षात्कार के कुछ हिस्से बुधवार को जारी किए

वॉशिंगटन
कोरोना वायरस संक्रमण के खतरे, उत्तर कोरिया के तानाशाह किम जोंग उन और एक रहस्यमय अमेरिकी हथियार को लेकर किताब ‘रेज’ में छपी अमेरिका के राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप की टिप्पणियां चर्चा का विषय बन गई हैं। खोजी पत्रकार बॉब वुडवर्ड की किताब ‘रेज’ 15 सितंबर से दुकानों पर उपलब्ध होगी। वुडवर्ड ने इस किताब के कुछ अंश और ट्रंप के साक्षात्कार के कुछ हिस्से बुधवार को जारी किए।

यह किताब ट्रंप के उन 18 साक्षात्कार पर आधारित हैं, जो अमेरिका के राष्ट्रपति ने वुडवर्ड को दिसंबर से जुलाई के बीच दिए। इस किताब के कुछ अंश ‘द वॉशिंगटन पोस्ट’ को उपलब्ध कराए गए हैं। वुडवर्ड ‘द वॉशिंगटन पोस्ट’ के संपादक हैं। वुडवर्ड ने लिखा है कि ट्रंप ने उन्हें बताया कि वह जब 2018 में सिंगापुर में उत्तर कोरिया के नेता से पहली बार मिले थे, तब वह उनसे बहुत प्रभावित हुए थे।

किताब के अनुसार, ट्रंप ने कहा कि किम ने ‘मुझे सब कुछ बताया’ और किम ने यह भी बताया कि उन्होंने अपने रिश्तेदार की किस प्रकार हत्या की थी। ट्रंप ने वुडवर्ड को बताया था कि सीआईए को इस बारे में कोई जानकारी ही नहीं है कि प्योंगयांग से कैसे निपटना है। ट्रंप ने किम के साथ अपनी तीन बैठकों को लेकर हुई आलोचनाओं को खारिज किया था। उन्‍होंने उत्तर कोरिया के बारे में कहा था कि वह अपने परमाणु हथियारों से अपने घर की तरह प्यार करता है और ‘वे इसे नहीं बेच सकते’।

ट्रंप को फरवरी में ही पता था, कोरोना वायरस बहुत घातक
वुडवर्ड ने राष्ट्रपति से पूछा था कि क्या एक श्वेत व्यक्ति के रूप में काले अमेरिकियों के ‘गुस्से और दर्द को बेहतर तरीके से समझना’ उनकी जिम्मेदारी है। इसके जवाब में ट्रंप ने उत्तर दिया था, ‘नहीं, मुझे ऐसा नहीं लगता।’ जब ट्रंप से पूछा किया कि क्या अमेरिका में नस्लवाद है, राष्ट्रपति ने कहा, ‘मुझे लगता है कि यह हर जगह है, लेकिन यह कई स्थानों की तुलना में यहां कम है।’ अमेरिका और उत्तर कोरिया के बीच 2017 में बढ़ रहे तनाव के बीच ट्रंप ने वुडवर्ड से कहा था, ‘मैंने एक परमाणु हथियार- एक हथियार प्रणाली बनाई है, जो इस देश के पास पहले नहीं थी। हमारे पास ऐसा हथियार है, जो आपने कभी देखा या सुना नहीं। हमारे पास ऐसी चीज है, जिसके बारे में (रूस के राष्ट्रपति व्लादिमीर) पुतिन और (चीन के राष्ट्रपति) शी चिनफिंग ने पहले कभी नहीं सुना।’

किताब में दावा किया गया है कि ट्रंप ने यह स्वीकार किया था कि उन्होंने घातक कोरोना वायरस संक्रमण के खतरे को सार्वजनिक तौर पर इसलिए तवज्जो नहीं दी, क्योंकि वह लोगों में घबराहट पैदा नहीं करना चाहते थे। किताब के अनुसार ट्रंप ने मार्च में बुडवर्ड से कहा था, ‘मैं हमेशा इसे कम महत्व देना चाहता था। मैं अब भी इसे तवज्जो नहीं देना चाहता, क्योंकि मैं लोगों में घबराहट पैदा नहीं करना चाहता।’ ट्रंप ने सात फरवरी को एक अन्य साक्षात्कार में पत्रकारों से कहा था कि कोरोना वायरस बहुत घातक फ्लू है और यह हवा से भी फैल सकता है।

donald trump kim jong

डोनाल्‍ड ट्रंप ने खोले क‍िम जोंग उन के कई राज



Source link

Previous Article
Next Article

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *