North Korea: जासूसों को उत्‍तर कोरिया ने भेजा सीक्रेट वीडियो संदेश, दुनियाभर में खलबली

Spread the love


हाइलाइट्स:

  • उत्‍तर कोरिया ने यूट्यूब पर एक सीक्रेट वीडियो संदेश जारी करके दुनियाभर में खलबली मचाई
  • माना जा रहा है कि उत्‍तर कोरिया ने इस वीडियो मेसेज को अपने अंतरराष्‍ट्रीय जासूसों के लिए भेजा
  • इस वीडियो का शीर्षक ‘0100011001-001’ था और इसमें कूट भाषा में निर्देश दिया गया था

प्‍योंगयांग
तानाशाह किम जोंग उन के देश उत्‍तर कोरिया ने यूट्यूब पर एक सीक्रेट वीडियो संदेश जारी करके दुनियाभर में खलबली मचा दी है। माना जा रहा है कि उत्‍तर कोरिया ने इस वीडियो मेसेज को अपने अंतरराष्‍ट्रीय जासूसों के लिए भेजा था। इस वीडियो का शीर्षक ‘0100011001-001’ था और इसमें कूट भाषा में निर्देश दिया गया था। इस वीडियो को उत्‍तर कोरिया ब्रॉडकॉस्‍ट चैनल के यूट्यूब पेज पर अपलोड किया गया था।

इस वीडियो में एक महिला कह रही है, ‘प्रिय मित्रों, आपको इंन्‍फार्मेशन टेक्‍नालॉजी के अध्‍ययन के लिए एक दूरस्‍थ एजुकेशन यूनिवर्सिटी की समीक्षा की जरूरत है। इसके बाद महिला ने कुछ बोलना शुरू किया जिसमें उसने रहस्‍यमय पन्‍नों का उदाहरण दिया। यह वीडियो करीब 65 सेकंड लंबा था और उसमें कोई तस्‍वीर नहीं थी। वीडियो के अंत में कहा गया था, ‘यह काम 719 खोज टीम के सदस्‍यों के लिए है।’ वीडियो ‘यहां प्‍योंगयांग में’ कहकर खत्‍म हो जाता है।

पालतू कुत्‍तों पर बरसा तानाशाह किम जोंग उन का कहर, मारकर खाने का आदेश

संदेश के बाद दुनियाभर में खलबली मची
उधर, परमाणु हथियारों से लैस नॉर्थ कोरिया के इस संदेश के बाद दुनियाभर में खलबली मच गई है। विशेषज्ञों के मुताबिक उत्‍तर कोरिया इस तरह के संदेश अपने दुनियाभर में फैले खासतौर पर दक्षिण कोरिया में रह रहे जासूसों के लिए भेजता है। इससे पहले इस संदेश को रेडियो के जरिए भेजा जाता था। ऐसा पहली बार है कि उत्‍तर कोरिया ने यूट्यूब के जरिए इस संदेश को प्रसारित किया।

किम जोंग उन ने वेश्‍यावृत्ति में लिप्‍त पार्टी सदस्‍यों को गोलियों से भुनवाया

उत्‍तर कोरिया इस तरह से अपने जासूसों के लिए संचार तकनीकों का इस्‍तेमाल कोल्‍ड वॉर के दिनों से कर रहा है। कोल्‍ड वॉर के दिनों में भी उत्‍तर कोरिया शॉर्टवेब रेडियो के जरिए रहस्‍यमय संदेश भेजता था। इसमें कई बार बच्‍चों की आवाज होती थी जो खुफिया संदेश भेजते थे। कोल्‍ड वॉर के दिनों में उत्‍तर कोरिया के हरेक एजेंट के लिए शॉर्टवेब रेडियो होना अनिवार्य होता था। माना जा रहा है कि उत्‍तर कोरिया अब इंटरनेट का इस्‍तेमाल अपने अंतरराष्‍ट्रीय जासूसों को कूट संदेशों को भेजने के लिए कर रहा है।

उत्‍तर कोरिया ने यूट्यूब के जरिए जासूसों को भेजा खुफ‍िया संदेश



Source link

Previous Article
Next Article

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *