PICS: 14 महीने बाद हिरासत से रिहा हुईं महबूबा मुफ्ती, घर पर ऐसे मिले फारूक और उमर अब्दुल्ला

Spread the love


14 महीने के बाद हिरासत से रिहा की गईं जम्मू-कश्मीर की पूर्व सीएम महबूबा मुफ्ती (Mehbooba Mufti) ने बुधवार को तमाम लोगों से अपने आधिकारिक आवास पर मुलाकात की। महबूबा मुफ्ती रिहाई (Mehbooba Mufti and Omar Abdullah Meeting) के बाद श्रीनगर के गुप्कार रोड स्थित अपने अवास पर रह रही हैं। बुधवार को महबूबा मुफ्ती से मिलने वालों में सबसे खास नाम जम्मू-कश्मीर के पूर्व सीएम फारूक अब्दुल्ला और उमर अब्दुल्ला का रहा। दोनों नेताओं ने महबूबा की रिहाई के बाद उनसे उनके घर पर मुलाकात की।

खुद गाड़ी चलाकर महबूबा के घर पहुंचे उमर

महबूबा मुफ्ती से मिलने के लिए उमर अब्दुल्ला अपने पिता और जम्मू-कश्मीर के पूर्व सीएम फारूक अब्दुल्ला के साथ गुप्कार रोड स्थित उनके आवास पर पहुंचे। इस दौरान तीनों नेताओं ने काफी देर तक आपस में बातचीत भी की। इससे पहले उमर ने महबूबा की रिहाई के फैसले का स्वागत करते हुए मंगलवार को एक ट्वीट भी किया था।

14 महीने बाद रिहा हुईं महबूबा

14-

महबूबा मुफ्ती के आवास पर पहुंचने के बाद फारूक और उमर ने उनका हालचाल लिया। मुलाकात के बाद उमर अब्दुल्ला ने अपने ट्विटर हैंडल से तस्वीर ट्वीट कर इसकी जानकारी दी। उमर अपने पिता के साथ खुद गाड़ी चलाकर महबूबा के घर पहुंचे थे। महबूबा मुफ्ती को मंगलवार को 14 महीने की हिरासत के बाद रिहा किया गया था। जम्मू-कश्मीर प्रशासन की ओर से महबूबा मुफ्ती की रिहाई का आदेश जारी किया गया था। इसके बाद महबूबा के आवास पर लगी सुरक्षा को हटाकर उन्हें रिहाई के दस्तावेज सौंप दिए गए।

उमर ने महबूबा की रिहाई पर जताई थी खुशी

महबूबा मुफ्ती की रिहाई के बाद उमर अब्दुल्ला ने इस फैसले का स्वागत किया था। उमर ने अपने ट्वीट में इस फैसले पर खुशी जाहिर करते हुए लिखा था कि महबूबा को हिरासत में रखना लोकतांत्रिक मूल्यों के विपरीत था।

फारूक और उमर ने महबूबा मुफ्ती से की कई मुद्दों पर बातचीत

आर्टिकल 370 के अंत के बाद से हिरासत में थीं महबूबा

-370-

महबूबा मुफ्ती की रिहाई से संबंधित एक याचिका बीते कई दिनों से सुप्रीम कोर्ट में लंबित थी, जिसपर गुरुवार को सुनवाई होनी थी। महबूबा को 5 अगस्त 2019 को अनुच्छेद 370 के अंत के बाद सीआरपीसी की धारा 107 और 151 के तहत एहतियातन हिरासत में लिया गया था। उनके अलावा उमर अब्दुल्ला को भी इसी दिन हिरासत में लिया गया था। बाद में फरवरी 2020 में दोनों नेताओं पर पब्लिक सेफ्टी ऐक्ट के तहत कार्रवाई की गई थी।

रिहाई के लिए महबूबा की बेटी ने दायर की थी याचिका

उमर अब्दुल्ला और उनके पिता फारूक अब्दुल्ला को बीते दिनों रिहा कर दिया गया था। लंबे वक्त से महबूबा मुफ्ती को भी रिहा करने की मांग की जा रही थी। इसके लिए महबूबा की बेटी इल्तिजा ने कानूनी लड़ाई शुरू की थी। इल्तिजा की याचिका पर सुप्रीम कोर्ट ने 29 सितंबर को राज्य और केंद्र सरकार को नोटिस जारी किया था। इस नोटिस में कोर्ट ने पूछा था कि किसी भी शख्स को कितने दिन हिरासत में रखा जा सकता है।



Source link

Previous Article
Next Article

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *