PM मोदी का बिहार प्लान हो गया तैयार, जानिए कब-कहां किस पर वार

Spread the love


हाइलाइट्स:

  • पीएम मोदी का ‘मिशन बिहार’ तैयार, 4 दिन में करेंगे 12 रैलियां
  • 23 अक्टूबर को सासाराम, गया और भागलपुर में होगी पीएम मोदी की रैली
  • 28 अक्टूबर को दरभंगा, मुजफ्फरपुर और पटना में प्रधानमंत्री जनता को करेंगे संबोधित
  • 1 नवंबर को छपरा, पूर्वी चंपारण और तीसरी रैली समस्तीपुर, 3 नवंबर को पश्चिम चंपारण, सहरसा, अररिया के फारबिसगंज में रैली

पटना
बिहार में विधानसभा चुनाव को लेकर बीजेपी-जेडीयू ने प्रचार अभियान तेज कर दिया है। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी भी जल्द ही चुनावी रैली में उतरने जा रहे हैं। बीजेपी की ओर से दी गई जानकारी के मुताबिक, प्रधानमंत्री प्रदेश में 12 रैलियों को संबोधित करेंगे। पीएम मोदी के साथ मुख्यमंत्री नीतीश कुमार, वीआईपी और हम पार्टी के वरिष्ठ नेता भी शामिल होंगे। बिहार में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की रैली 23 अक्टूबर को सासाराम, गया और भागलपुर में होगी। 28 अक्टूबर को दरभंगा, मुजफ्फरपुर और पटना में होगी। 1 नवंबर को छपरा, पूर्वी चंपारण और तीसरी रैली समस्तीपुर में होगी। 3 नवंबर को पश्चिम चंपारण, सहरसा, अररिया के फारबिसगंज में होगी।

बिहार में पीएम मोदी की होंगी 12 रैलियां : देवेंद्र फडणवीस
देवेंद्र फडणवीस ने कहा कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की रैली में सोशल डिस्टेंसिंग के साथ प्रशासन की ओर से जो भी दिशा-निर्देश होंगे उसी के अनुसार लोगों को बुलाया जाएगा। सभी लोगों को मास्क लगवाना जरूरी होगा। रैली में सेनेटाइजर की व्यवस्था पार्टी की ओर से की जाएगी। जहां भी प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की सभा होगी उसके आसपास के बीच विधानसभा क्षेत्र में एलईडी लगाकर उनकी सभा का प्रसारण किया जाएगा। पीएम नरेंद्र मोदी की रैली जहां भी होगी उज़के आसपास के 20 विधानसभा क्षेत्र में एलईडी स्क्रीन लगाएं जाएंगे। यानी प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की रैली 100 मैदानों में चलेगी।

इसे भी पढ़ें:- कृष्ण की आत्मकथा, सत्ता की चाबी और अर्जुन बने नीतीश का निशाना, लालू ने ब्रह्मास्त्र चलाकर दी चौथी मात

चार दिन में पीएम मोदी की 12 रैली
बिहार चुनाव को लेकर पीएम मोदी की 12 रैलियां होंगी। 23 अक्टूबर को प्रधानमंत्री मोदी पहली बार चुनाव प्रचार के लिए उतरेंगे। इस दिन उनकी तीन रैलियां सासाराम, गया और भागलपुर में होंगी। फिर 28 अक्टूबर को दरभंगा, मुजफ्फरपुर और पटना में प्रधानमंत्री रैली को संबोधित करेंगे। 1 नवंबर को छपरा, पूर्वी चंपारण और तीसरी रैली समस्तीपुर में होगी। 3 नवंबर को पश्चिम चंपारण, सहरसा, अररिया के फारबिसगंज में होगी। देखिए पूरी डिटेल्स…

पीएम मोदी का मिशन बिहार

दिन जगह कौन-कौन होगा साथ
23 अक्टूबर सासाराम सीएम नीतीश कुमार, जेडीयू-बीजेपी के वरिष्ठ नेता, HAM और VIP के दिग्गज नेता रहेंगे मौजूद
23 अक्टूबर गया सीएम नीतीश कुमार होंगे साथ, एनडीए के वरिष्ठ नेता रहेंगे मौजूद
23 अक्टूबर भागलपुर सीएम नीतीश कुमार होंगे साथ, एनडीए के वरिष्ठ नेता रहेंगे मौजूद
28 अक्टूबर दरभंगा सीएम नीतीश कुमार के साथ-साथ एनडीए में शामिल दलों के दिग्गज नेता रहेंगे मौजूद
28 अक्टूबर मुजफ्फरपुर सीएम नीतीश कुमार के साथ-साथ एनडीए में शामिल दलों के दिग्गज नेता रहेंगे मौजूद
28 अक्टूबर पटना सीएम नीतीश कुमार होंगे साथ, एनडीए के वरिष्ठ नेता रहेंगे मौजूद
01 नवंबर छपरा सीएम नीतीश कुमार, जेडीयू-बीजेपी के वरिष्ठ नेता, HAM और VIP के दिग्गज नेता रहेंगे मौजूद
01 नवंबर पूर्वी चंपारण सीएम नीतीश कुमार, जेडीयू-बीजेपी के वरिष्ठ नेता, HAM और VIP के दिग्गज नेता रहेंगे मौजूद
01 नवंबर समस्तीपुर सीएम नीतीश कुमार, जेडीयू-बीजेपी के वरिष्ठ नेता, HAM और VIP के दिग्गज नेता रहेंगे मौजूद
03 नवंबर पश्चिमी चंपारण सीएम नीतीश कुमार होंगे साथ, एनडीए के वरिष्ठ नेता रहेंगे मौजूद
03 नवंबर सहरसा सीएम नीतीश कुमार होंगे साथ, एनडीए के वरिष्ठ नेता रहेंगे मौजूद
03 नवंबर अररिया के फॉरबिसगंज सीएम नीतीश कुमार होंगे साथ, एनडीए के वरिष्ठ नेता रहेंगे मौजूद

Bihar Election: चिराग पर बोले सुशील मोदी- PM मोदी की रैली होने वाली है, भ्रम दूर हो जाएगा

एनडीए की संयुक्त प्रेस वार्ता में पेश किया गया रिपोर्ट कार्ड
पटना में शुक्रवार को एनडीए की संयुक्त प्रेस वार्ता में एनडीए का रिपोर्ट कार्ड पेश किया गया। इसमें बिहार बीजेपी चुनाव प्रभारी और महाराष्ट्र के पूर्व मुख्यमंत्री देवेंद्र फडणवीस के साथ केंद्रीय मंत्री रविशंकर प्रसाद शामिल हुए। बिहार के स्वास्थ्य मंत्री और बीजेपी नेता मंगल पांडे, जेडीयू से संजय झा, जीतन राम मांझी की पार्टी ‘हम’ से दानिश रिजवान और हम वीआईपी पार्टी के नेता भी शामिल रहे। मंगल पांडे ने बताया कि एनडीए की ओर से जो रिपोर्ट कार्ड पेश किया जा रहा है, इसमें केंद्र सरकार और बिहार सरकार की ओर किए गए कार्यों की जानकारी है। इस रिपोर्ट कार्ड को एनडीए के तमाम कार्यकर्ता इसे घर-घर तक पहुंचाने का काम करेंगे।

आरजेडी में पीढ़ी जरूर बदली है लेकिन संस्कृति नहीं बदली : संजय झा
बिहार के जल संसाधन मंत्री और जेडीयू नेता संजय झा ने कहा कि बिहार में पहले जात-पात और मोहब्बत के नाम पर चुनाव होते थे लेकिन इस समय की सरकार बनते हैं चुनाव का नरेटिव चेंज हो गया। बिहार चुनाव में अब विकास के नाम पर ही वोट मांगा जाता है। आरजेडी पर तंज कसते हुए उन्होंने कहा कि आरजेडी का नेतृत्व जरूर बदल गया है लेकिन उसकी संस्कृति वही लग रही है। आरजेडी आज भी 15 साल पुराने लालू राबड़ी शासनकाल की संस्कृति पर काम कर रही है।



Source link

Previous Article
Next Article

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *