UCAV Arrow: दुश्मन के छक्के छुड़ाएगा दुनिया का पहला मानवरहित सुपरसोनिक लड़ाकू ड्रोन, आवाज से भी ज्यादा रफ्तार

Spread the love


हाइलाइट्स:

  • दुनिया का पहला मानवरहित सुपरसोनिक लड़ाकू ड्रोन
  • आवाज की रफ्तार से भी ज्यादा तेज रफ्तार से उड़ेगा
  • जंग के मैदान में दुश्मन के छक्के छुड़ाएगा विमान
  • 4,800 किमी तक की उड़ान, 17,000kg वजन क्षमता

सिंगापुर
सिंगापुर की केली एयरोस्पेस ने दुनिया का पहला सुपरसोनिक मानवरहित कॉम्बैट एरियल वीइकल (UCAV) लॉन्च किया है। इसकी कीमत है 1.6 करोड़ डॉलर या 117 करोड़ रुपये। इस जेट को Arrow नाम दिया गया है और यह आवाज की रफ्तार से भी तेज उड़ सकता है। यह Mach 2.1 यानी 2593 किलोमीटर प्रति की रफ्तार पकड़ सकता है।

इसकी लॉन्च के मौके पर केली एयरोस्पेस के चीफ एग्जिक्युटिव इयान लिम ने कहा कि UAV कभी अपनी रफ्तार के लिए नहीं जाने जाते हैं। Arrow सुपरसोनिक UAV से रफ्तार और पहुंच की रुकावट को पार कर लिया गया है।

यूं उड़ा सकता है दुश्मन के छक्के
UCAV में कम रेडार क्रॉस-सेक्शन और इन्फ्रा-रेड सिग्नेचर है। इसे कॉम्बैट या रेकी के लिए इस्तेमाल के हिसाब से तैयार किया गया है। इसे विवाद वाले क्षेत्र या मिसाइल्स को भटकाने के लिए, दुश्मन के लड़ाकों का सामना करने के लिए या उनके संचार उपकरण जाम करने के लिए भी इस्तेमाल किया जा सकता है। इसका अधिकतम टेक-ऑफ वजन 16 हजार 800 किलोग्राम हो सकता है और यह 4,800 किमी से ज्यादा दूरी की उड़ान तय कर सकता है।

100 से भी ज्यादा ऑर्डर आए
कई सारे Arrow ड्रोन को पायलट वाले कॉम्बैट एयरक्राफ्ट से कंट्रोल किया जा सकता है जिससे वह जंग के मैदान में कई काम कर सकते हैं। इन्हें ग्राउंड स्टेशन से रिमोटली भी कंट्रोल किया जा सकता है। ये ड्रोन कार्बन फाइबर के एक शेल से बने हैं। इन्हें ड्रोन स्वॉर्म या फॉर्मेशन में भी उड़ाया जा सकता है। आमतौर पर दुश्मन के एयर डिफेंस सिस्टम को परेशान करने के लिए इनका इस्तेमाल किया जाता है। केली एयरोस्पेस का कहना है कि उन्हें पहले ही 100 से ज्यादा प्री-ऑर्डर मिल चुके हैं।



Source link

Previous Article
Next Article

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *